PDP सांसद ने दिया विवादित बयान: कहा- मॉब लिंचिंग नहीं रुकी तो देश के होंगे टुकड़े

- in राष्ट्रीय

श्रीनगर: पीडीपी के वरिष्ठ नेता और बारामूला से लोकसभा सांसद मुजफ्फर हुसैन बेग ने कहा कि गाय तस्करी के आरोपों को लेकर अगर मुस्लिमों की भीड़ द्वारा पीट-पीट कर हत्या नहीं रुकी तो भारत का दूसरा बंटवारा हो सकता है. पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के 19वें स्थापना दिवस के मौके पर यहां एक रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने उक्त बातें कही. गौरक्षा के नाम पर पीट-पीट कर हत्या किए जाने के मामले का संदर्भ देते हुए बेग ने कहा, “हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील करते हैं कि गाय के नाम पर मुस्लिमों की हत्या रोकी जानी चाहिए. एक बंटवारा पहले ही 1947 में हो चुका है लेकिन अगर यह जारी रहा तो एक और विभाजन हो सकता है.” 

उन्होंने कहा कि पीडीपी ने भाजपा के साथ सत्ता के लिए गठबंधन नहीं किया बल्कि इसलिए कि देशभर के मुस्लिमों और कश्मीरी लोगों के साथ न्याय सुनिश्चित किया जा सके.

लिंचिंग रोकने के लिए गोमांस खाना बंद हो: RSS
आरएसएस और बीजेपी के कुछ नेताओं ने कहा है कि गोमांस खाना बंद हो और गाय को ‘राष्ट्र माता’ का दर्जा दिया जाए. उन्होंने गायों की तस्करी के संदिग्धों की भीड़ द्वारा पीट – पीट कर हत्या किए जाने की घटनाओं पर विराम लगाने का एक तरीका सुझाते हुए यह बात कही. राजस्थान के अलवर जिले में गो तस्कर होने के संदेह में एक मुस्लिम युवक की भीड़ द्वारा कथित तौर पर पीट – पीट कर हत्या (मॉब लिंचिंग) किए जाने की घटना के बाद राजनीतिक सरगर्मी बढ़ने के बीच भाजपा प्रवक्ता मीनाक्षी लेखी ने इस तरह की घटनाओं के मुद्दे को उठाने वालों को आज ढोंगी करार दिया. 

उन्होंने कहा कि ये लोग 1984 के सिख विरोधी दंगों और 2002 में कारसेवकों की कथित ‘लिंचिंग’ को भूल गए हैं, जिसकी वजह से गुजरात में साम्प्रदायिक दंगे भड़के थे. वहीं, दूसरी ओर पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव ने भाजपा पर प्रहार करते हुए कहा कि मुस्लिम अक्सर ही भीड़ हिंसा का शिकार बनते हैं और यह भगवा पार्टी से जुड़े संगठनों के हिंदू – मुसलमान को बांटने के एजेंडा को बयां करता है. 

आरएसएस नेता इंद्रेश कुमार ने रांची में कहा कि यदि गोमांस खाना बंद कर दिया जाता है तो शैतान के इस तरह के कई अपराध रोके जा सकते हैं. उन्होंने भीड़ द्वारा पीट – पीट कर की जाने वाली हत्या की घटनाओं का संभवत: जिक्र करते हुए यह बात कही. वह हिंदू जागरण मंच के एक कार्यक्रम में शरीक होने के लिए रांची में थे. कुमार ने कहा कि कोई भी धर्म गो हत्या की मंजूरी नहीं देता. उन्होंने कहा कि भीड़ हिंसा की सभी घटनाएं निंदनीय हैं. 

गोमांस खाने की परंपरा रोकने के लिए केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह उनके विचारों से सहमति जताते नजर आएं. उन्होंने कहा कि वह एक परिपक्व व्यक्ति हैं और उन्होंने जो कुछ भी कहा, अवश्य ही सोच विचार कर कहा होगा. 

अलवर घटना के बाद राजस्थान के मंत्री जसवंत यादव ने मुसलमानों से गो तस्करी का कारोबार रोकने को कहा. उन्होंने कहा कि यह हिंदुओं का खून खौला देता है. उन्होंने मुसलमानों से हिंदुओं की भावनाएं समझने को कहा. भाजपा के वरिष्ठ नेता ने मृतक के परिवार के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए कहा कि वह उन लोगों के खिलाफ खड़े हैं, जो कानून अपने हाथ में लेते हैं. भाजपा सांसद विनय कटियार ने कहा कि अन्य समुदायों के लोगों को गो हत्या नहीं करनी चाहिए क्योंकि इसे लेकर लोग गुस्से में आ जाते हैं. 

उन्होंने मॉब लिंचिंग पर सवालों का जवाब देते हुए कहा, ‘…जब इस तरह की घटनाएं होती हैं तो अन्य समुदाय को इस बारे में सोचना चाहिए. उन्हें गायों को नहीं छूना चाहिए, जबकि वे लोग जानते हैं कि हिंदू इसे लेकर क्रोधित हो जाते हैं. उन लोगों को गो हत्या नहीं करनी चाहिए.’’ तेलंगाना के एक भाजपा विधायक ने कहा कि गाय को राष्ट्र माता का दर्जा मिलने तक लिंचिंग की घटनाएं नहीं रूकेंगी. 

हैदराबाद के गोशमहल क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर रहे टी राजा सिंह लोध ने रविवार को सोशल नेटवर्किंग साइट पर एक वीडियो संदेश में कहा कि वह इस मुद्दे पर खून – खराबा नहीं चाहते, लेकिन यदि इसे रोकना है तो गाय को अवश्य ही राष्ट्र माता का दर्जा देना होगा. सात मिनट के वीडियो में उन्होंने सांसदों से संसद में यह मांग करने का भी अनुरोध किया. सिंह ने कहा, ‘जब तक गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा नहीं दे दिया जाता, मुझे लगता है कि गौ रक्षकों को जेल में डाल दिए जाने या उन पर गोली चलाने के बावजूद भी गौरक्षा के लिए युद्ध नहीं रूकेगा.’’ उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी इस मांग का समर्थन करने का अनुरोध किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अपने जीन्स में मौजूद कैंसर के खतरे से अनजान हैं 80 फीसदी लोग

दुनिया भर में कैंसर के मामलों में तेजी