अभिभाषण में राष्ट्रपति का बयान, एक साथ चुनावों पर देश में बने सहमति

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सोमवार को संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित किया। अपने अभिभाषण में राष्ट्रपति ने केंद्र सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि साल 2018 नए भारत के सपने को साकार करने के लिए हैं। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि राजनीतिक दल देश में सारे चुनाव एक साथ कराने पर बहस करें और सहमत हों।

उन्होंने अपने अभिभाषण की शुरुआत बाबा साहेब आंबेडकर की कही बात दोहराते हुए की। राष्ट्रपति ने कहा कि बाबा साहेब कहते थे कि सामाजिक और आर्थिक लोकतंत्र के बिना राजनीतिक लोकतंत्र अस्थिर है। 2018 नए भारत के सपने को साकार करने के लिए है। गणतंत्र दिवस हमारा प्रमुख उत्सव है और कमजोर वर्ग को समर्पित सरकार देश के आम नागरिक का जीवन आसान बनाने के लिए काम कर रही है।

राष्ट्रपति ने कहा कि तीन तलाक से जुड़ा बिल संसद में पेश हुआ है और आशा है कि संसद शीघ्र इसे लागू करने में मदद करेगी। इस बिल के पास होने पर मुस्लिम महिलाओं और बेटियां आत्मसम्मान के साथ जी सकेंगी। बेटियों के साथ भेदभाव खत्म करने के लिए सरकार ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना शुरू की। मातृत्व लाभ अधिनियम में बदलाव करते हुए सरकार ने मातृत्व अवकाश 12 सप्ताह की जगह 26 सप्ताह कर दिया है।

राष्ट्रपति ने अन्य उपलब्धियों की जानकारी देते हुए कहा कि जनधन योजना के तहत 31 करोड़ गरीबों के खाते खुल चुके हैं वहीं महिलाओं के बचत खातों की संख्या बढ़कर 40 प्रतिशत हो गई। सरकार किसानों की आय 2022 तक दोगुनी करने के लिए प्रतिबद्ध है। देश के गांवों को ब्रॉडबैंड से जोड़ने के लिए काम कर जारी है। इसके तहत 2.5 लाख पंचायतें इंटरनेट से जुड़ चुकी हैं।

राष्ट्रपति ने आगे कहा कि देश में 2.70 लाख कॉमन सर्विस सेंटर स्थापित किए जा चुके हैं। यह सेंटर्स कम दरों पर डिजिटल सुविधाएं उपलब्ध करवाते हैं। हर किसी को करीब लाने के लिए सरकार ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में तेजी लाई है। 2014 में 56 प्रतिशत गांव सड़कों से जुड़े थे और आज 82 प्रतिशत गावों में सड़क जाती है।

राष्ट्रपति ने कहा कि हमारा देश सबसे युवा है और सरकार स्टार्ट अप, स्टैंड अप, स्किल इंडिया और प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के माध्यम से युवाओं को उनके सपने पूरे करने और रोजगार देने का काम किया है। सरकार ने मजदूरों की न्यूनतम मजदूरी 40 प्रतिशत बढ़ाई है। यह हमारे लिए गर्व का विषय है कि हाल ही में यूनेस्को ने कुंभ मेले को मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक विरासत का दर्जा दिया है।

गुजरात के बाद राजस्थान में बीजेपी को कड़ी चुनौती देने की तैयारी कर रही कांग्रेस

आधार की मदद से गरीबों तक सुविधाएं पहुंच रही है भी बिना किसी मध्यस्थ के। सरकार की 400 से ज्यादा पॉलिसिज के लिए डिजिटल ट्रांजेक्शन किए जा रहे हैं। इसके चलते 57 हजार करोड़ रुपए गलत हाथों में जाने से बच गए।

राष्ट्रपति बोले कि आजादी के बाद भारत में जहां सिर्फ 76 एयरपोर्ट्स पर कमर्शियल कनेक्टिविटी थी वहीं उड़ान स्कीम के तहत हमने 56 एयरपोर्ट्स और 31 हेलीपेड्स को जोड़ा है वो भी सिर्फ 15 महीनों में। मैं सीमा पर देश के लिए शहादत देने वाले शहीद जवानों को सलाम करने के साथ ही शोक व्यक्त करता हूं। जम्मू-कश्मीर पुलिस, रक्षा और पेरमिलिट्री फोर्सेस आतंकियों से मिलकर लड़ रही हैं। भ्रष्टाचार के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी है और पिछले एक साल में 3.50 लाख संदिग्ध कंपनियों के रजिस्ट्रेशन रद्द हुए हैं।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button