कांग्रेस ने AAP-BJP के लिए दिया ये बयान कहा- दोनों ने जनता को बनाया बेवकूफ

नई दिल्ली। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने कहा है कि आम आदमी पार्टी और भाजपा दोनों ने दिल्ली की जनता को बेवकूफ बनाया है। रोजगार देने का वादा तो किया, लेकिन उसे पूरा नहीं किया। केंद्र सरकार ने जहां नोटबंदी, जीएसटी और सीलिंग के जरिये उल्टे बेरोजगारी बढ़ाई वहीं दिल्ली सरकार ने जनता की परेशानियां दूर करने की बजाए वातानुकूलित कमरों में धरने देकर जनता के हमदर्द होने का ढोंग किया।कांग्रेस ने AAP-BJP के लिए दिया ये बयान कहा- दोनों ने जनता को बनाया बेवकूफ

रोजगार के अवसर सृजित किए गए

कांग्रेस नेता ने यह भी कहा कि जब केंद्र में यूपीए और दिल्ली में शीला दीक्षित की सरकार थी तो सीलिंग से बचाव के लिए बार-बार मास्टर प्लान में संशोधन किए गए और बेरोजगारों के लिए बड़ी मात्रा में रोजगार के अवसर भी सृजित किए गए। माकन तालकटोरा इंडोर स्टेडियम में बेरोजगार युवा एकता मंच के बैनर तले आयोजित बेरोजगार युवा सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

केजरीवाल और मोदी सरकार दोनों कसूरवार

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव और दिल्ली प्रभारी पीसी चाको ने केजरीवाल सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि शीला दीक्षित सरकार के 15 साल में ऐसा कभी नहीं हुआ कि जब कोई भूख से मरा हो। जग प्रवेश ने कहा कि दिल्ली के युवा अगर बेरोजगारी का दंश झेल रहे हैं तो इसके लिए केजरीवाल और मोदी सरकार दोनों कसूरवार हैं। किसी भी राज्य या देश का विकास युवाओं की खुशहाली से ही लगाया जाता है मगर दिल्ली में ऐसा कतई नहीं है। वहीं केजरीवाल के लिए उन्होंने कहा कि सीसीटीवी कैमरे की राजनीति करने के बजाए अगर मुख्यमंत्री युवाओं को रोजगार देने के लिए संघर्ष करें तो ज्यादा बेहतर होगा। उन्होंने 10 अगस्त को संसद का घेराव करने की भी घोषणा की।

कई बड़े नेता रहे मौजूद 

सम्मेलन को पूर्व सांसद रमेश कुमार, सज्जन कुमार, दिल्ली के पूर्व मंत्री रमाकांत गोस्वामी, पूर्व विधायक सुरेंद्र कुमार, मुकेश शर्मा, नसीब सिंह, अनिल भारद्वाज, पूर्व महापौर सतबीर सिंह आदि ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ अध्यक्ष कुणाल सहरावत, प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता पूजा बाहरी, नगर निगम के नेता मुकेश गोयल सहित प्रदेश महिला कांग्रेस और एनएसयूआइ के पदाधिकारी भी उपस्थित थे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बसपा ने भी तोड़ा नाता, राहुल की एक और सियासी चूक, बीजेपी के लिए संजीवनी

बसपा अध्यक्ष मायावती ने कांग्रेस की बजाय अजीत जोगी के