कर्नाटक चुनाव: राहुल गांधी ने किया 5 साल में एक करोड़ नौकरियों का वादा

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को कर्नाटक चुनाव के लिए मंगलोर में घोषणा पत्र जारी कर दिया. इस मौके पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और पार्टी के अन्य सीनियर नेता मौजूद रहे. राहुल गांधी ने कहा कि हमने कर्नाटक के हर जिले में जाकर लोगों की राय ली. हम घोषणा पत्र में किए गए एक-एक वादे को पूरा करेंगे. राहुल ने कहा कि इस घोषणापत्र में कर्नाटक के लोगों के मन की बात है. हमने इसमें जो भी लिखा है, हम उसे पूरा करके दिखाएंगे. पिछले घोषणापत्रों से भी हमने 95% काम पूरे किए हैं. कर्नाटक विधानसभा चुनाव के घोषणा पत्र में कांग्रेस ने सत्ता में आने पर पांच साल में एक करोड़ नौकरियों के सृजन का वादा किया है.

राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमन्त्री लोगों को अपने ‘मन की बात’ कहते हैं, जबकि कांग्रेस का घोषणा पत्र कर्नाटक के लोगों के मन की बात को शामिल किए हुए है.कर्नाटक हर किसी की इज्जत करता है. ऐसा घोषणा पत्र नहीं है जिसे बंद कमरे में 3-4 लोगों ने बनाया हो. इसे हर जिले और हर समुदाय के पास जाकर तैयार किया गया है मैं यहां कर्नाटक के लोगों को ये बताने नहीं आया हूं कि उनके लिए क्या अच्छा है, मैं यहां ये सुनने आया हूं कि वो अपनी बेहतरी के लिए क्या सोचते हैं हम सभी को कर्नाटक पर बहुत गर्व है. इस राज्य ने देश को सिलिकॉन वैली का तोहफा दिया है. मैं कर्नाटक को धन्यवाद देना चाहता हूं, क्योंकि इसके आत्मविश्वास ने पूरे देश को आगे बढ़ने का रास्ता दिखाया है.

सुप्रीम कोर्ट की जज बनीं इंदु मल्होत्रा, CJI ने दिलाई शपथ

कांग्रेस अध्यक्ष पिछले कुछ महीनों में कर्नाटक का छह बार दौरा कर चुके हैं. कर्नाटक में सभी 224 सीटों के लिए 12 मई को मतदान होगा और 15 मई को मतगणना होगी. गौरतलब है कि कर्नाटक में चुनाव प्रचार के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के विशेष विमान में अचानक तकनीकी गड़बड़ी होने से विमान को आपात स्थिति में उतारा गया. तकनीकी गड़बड़ी के बाद विमान को उत्तरी कर्नाटक के हुबली हवाईअड्डा पर उतारना पड़ा. नागरिक विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने कहा कि वह मामले की जांच करेगा, उधर पुलिस ने कहा कि उसने एक शिकायत दर्ज कर ली है. राहुल उत्तर कन्नड़, दक्षिण कन्नड़, कोगादू और मैसुरू जिलों में पार्टी के उम्मीदवारों का प्रचार के लिए दो दिन की यात्रा पर कर्नाटक गए हैं.

पार्टी के सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी के मुताबिक वरिष्ठ नेताओं के साथ गांधी पार्टी के जिला स्तरीय सम्मेलन में भी शामिल होंगे. सूत्रों ने कहा कि बंतवाल में ब्रह्माश्री नारायण गुरु सर्कल के पास लोगों को संबोधित करने के बाद कांग्रेस नेता शहर के धर्मस्थल मंदिर जाएंगे. बता दें कि इससे पहले राहुल 20 मार्च को तटीय क्षेत्र में आए थे और उस दौरान कई रोड शो किए थे.

 
 
 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

लोअर पीसीएस-2015 के चयनितों को चार माह बाद भी नियुक्ति का इंतजार – राघवेन्द्र प्रताप सिंह

लखनऊ। एक ओर जहाँ सूबे की योगी आदित्यनाथ