जानिए कंडोम का इस्तेमाल कैसे ले सकता है आपकी जान

- in Mainslide, जीवनशैली

आजकल अनचाहे गर्भ और यौन संक्रमण के ख़तरे से बचने के लिए कंडोम के इस्तेमाल की सलाह दी जाती है। लेकिन क्या आप  यह भी जानते हैं कि इसके ज्यादा इस्तेमाल से भी कई तरह के साइड इफेक्टस हो सकते हैं। कई बार कंडोम न सिर्फ सेक्स लाइफ को प्रभावित करता है बल्कि कई यौन संबंधी बीमारियों को भी न्यौता देता है।

ये है दुनिया की परफेक्ट फिगर वाली मॉडल, तस्वीरें देखकर हो जाएंगे मदहोश

जानिए क्यों !

एलर्जी औ रदर्द का ख़तरा

यौन मामले के जानकारों का कहना है कि सप्ताह में कंडोम के दो बार से ज्यादा इस्तेमाल से योनि की आंतरिक परत में संवेदनशीलता कम हो जाती है या फिर समाप्त हो जाती है। जिसके कारण स्त्रियों की योनि में प्राकृतिक चिकनाई युक्त द्रव्य बनना कम या बंद हो जाता है। जिसके चलते योनि में खराश या सूखापन आ जाता है और महिलाओं को काफी दर्द का सामना करना पड़ता है।

योनि में घाव व् छिलन

कंडोम का अधिक उपयोग करने से योनि में छिलन व घाव हो जाते हैं जिससे असहनिय पीड़ा होती है और सूजन तक आ जाती है। ऐसी स्थिति में सेक्स करने से घाव फिर हरे हो जाते हैं और कई बार तकलीफ काफी बढ़ जाती है। कई बार घावों से खून भी निकलने लगता है। जिससे महिलाओं के जननांग और गर्भाशय में भारी संक्रमण फैलने लगता है।इसी कारण कई महिलाओं को योनि और गर्भाशय में कैंसर की शिकायत होती है।

जननांग पर दाने

लेटेक्स से बने कंडोम जहां यौन संक्रमण और गर्भधारण करने से बचाते हैं तो वहीं इनसे एलर्जी का ख़तरा बना रहता है। इसके प्रयोग के साथ सेक्स करने से स्त्री की प्रक्रिया को घटा देता है। इसकी वजह योनि में सूखापन और खुजली को माना गया है। कई बार इसे अनदेखा करने से स्त्री को दुष्परिणाम भी भुगतने पड़ते हैं। औऱ यौन में दर्दनाक दाने निकल आते हैं।

सेक्स से खुजली की समस्या

कंडोम का अधिक उपयोग करने वाली औरतों को छुने ही दर्द महसूस होने लगता है। साथ ही बिना कंडोम के सेक्स करने से दर्द वाली जगह पर जलन, एलर्जी और खुजली होना आम बात है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

ब्यूटी टिप्स: अब रात भर में पाएं गोरी और चमकदार त्वचा, अपनाएं ये तरीके

काला रंग किसी लड़की की खूबसूरती पर बहुत