दो माह के मृत बेटे को जिंदा करने के लिए तांत्रिक क्रियांए करता रहा पिता

- in राजस्थान

जयपुर। राजस्थान में धौलपुर जिले के बहवलपुर गांव निवासी एक तांत्रिक रामदयाल कुशवाह ने अंधविश्वास की सारी हदें पार करते हुए करीब 9 माह पहले मरे अपने बेटे को जिंदा करने के लिए शव के अवशेष को कब्र से बाहर निकाल लिया और करीब 6 घंटे तक तांत्रिक क्रियाएं करता रहा ।

जयपुर। राजस्थान में धौलपुर जिले के बहवलपुर गांव निवासी एक तांत्रिक रामदयाल कुशवाह ने अंधविश्वास की सारी हदें पार करते हुए करीब 9 माह पहले मरे अपने बेटे को जिंदा करने के लिए शव के अवशेष को कब्र से बाहर निकाल लिया और करीब 6 घंटे तक तांत्रिक क्रियाएं करता रहा ।  आखिरकार ग्रामीणों की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने कथित तांत्रिक रामदयाल कुशवाह को पाबंद करते हुए शव के के अवशेषों को वापस कब्र में दफनाया । पुलिस रामदयाल कुशवाह को मानिसक रूप से विक्षिप्त बता रही है । यह मामला सोमवार का है । सोमवार दोपहर रामदयाल कुशवाह ने गांव के कुछ लोगों को एकत्रित कर चमत्कार दिखाने की बात कही । उसने ग्रामीणों को बताया कि वह चमत्कार से अपने मृतक बेटे को सात दिन में जिंदा कर देगा ।  इसके लिए वह सात दिन तक तांत्रिक क्रियाएं करेगा,लेकिन इसके लिए लोगों की भीड़ जुटना आवश्यक है । उसने ग्रामीणों से कहा कि हर घर में से एक व्यक्ति का आना जरूरी है,जिस घर का सदस्य नहीं आएगा उस घर में पीड़ा उत्पन्न हो जाएगी । पुलिस के अनुसार रामदयाल के दो माह के बेटे की करीब नो माह पहले मौत हो गई थी । बच्चे की उम्र मात्र दो माह होने के कारण उसके शव को खेत में ही दफना दिया था । बेटे की मौत के बाद से रामदयाल और उसकी पत्नी परेशान रहते थे ।  रामदयाल गांव के भैरूजी मंदिर में पूजा-अर्चना करता था । सोमवार दोपहर रामदयाल ने अपने खेत में से मृत बेटे के शरीर के अवशेष बाहर निकाले और गांव में ही भैरोंजी मंदिर में तांत्रिक क्रियाएं करता रहा । उसने अवशेष को लाल कपड़े में बांध दिया । रामदयाल करीब 6 घंटे तक तांत्रिक क्रियाएं करता रहा ।उसने ग्रामीणों से ऐसा सात दिन तक करने की बात कही ।  इसी बीच शाम को धौलपुर के पुलिस थान सदर में किसी ग्रामीण ने पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी तो थाना अधिकारी नियाज मोहम्मद पुलिस बल के साथ गांव में पहुंचे और रामदयाल को पाबंद करते हुए शव को वापस कब्र में दफनवाया । पुलिस के अनुसार रामदयाल तीन बेटियां का पिता है और उसकी पत्नी अभी भी गर्भवती है ।आखिरकार ग्रामीणों की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने कथित तांत्रिक रामदयाल कुशवाह को पाबंद करते हुए शव के के अवशेषों को वापस कब्र में दफनाया । पुलिस रामदयाल कुशवाह को मानिसक रूप से विक्षिप्त बता रही है । यह मामला सोमवार का है । सोमवार दोपहर रामदयाल कुशवाह ने गांव के कुछ लोगों को एकत्रित कर चमत्कार दिखाने की बात कही । उसने ग्रामीणों को बताया कि वह चमत्कार से अपने मृतक बेटे को सात दिन में जिंदा कर देगा ।

इसके लिए वह सात दिन तक तांत्रिक क्रियाएं करेगा,लेकिन इसके लिए लोगों की भीड़ जुटना आवश्यक है । उसने ग्रामीणों से कहा कि हर घर में से एक व्यक्ति का आना जरूरी है,जिस घर का सदस्य नहीं आएगा उस घर में पीड़ा उत्पन्न हो जाएगी । पुलिस के अनुसार रामदयाल के दो माह के बेटे की करीब नो माह पहले मौत हो गई थी । बच्चे की उम्र मात्र दो माह होने के कारण उसके शव को खेत में ही दफना दिया था । बेटे की मौत के बाद से रामदयाल और उसकी पत्नी परेशान रहते थे ।

रामदयाल गांव के भैरूजी मंदिर में पूजा-अर्चना करता था । सोमवार दोपहर रामदयाल ने अपने खेत में से मृत बेटे के शरीर के अवशेष बाहर निकाले और गांव में ही भैरोंजी मंदिर में तांत्रिक क्रियाएं करता रहा । उसने अवशेष को लाल कपड़े में बांध दिया । रामदयाल करीब 6 घंटे तक तांत्रिक क्रियाएं करता रहा ।उसने ग्रामीणों से ऐसा सात दिन तक करने की बात कही ।

इसी बीच शाम को धौलपुर के पुलिस थान सदर में किसी ग्रामीण ने पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी तो थाना अधिकारी नियाज मोहम्मद पुलिस बल के साथ गांव में पहुंचे और रामदयाल को पाबंद करते हुए शव को वापस कब्र में दफनवाया । पुलिस के अनुसार रामदयाल तीन बेटियां का पिता है और उसकी पत्नी अभी भी गर्भवती है ।

You may also like

स्वस्छ छवि वालों को मिलना चाहिए राजनीति में मौका : ओ.पी. रावत

जयपुर: भारत निर्वाचन आयोग के मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओ.पी. रावत