Home > राज्य > हरियाणा > जनता के बीच CM मनोहर लाल ने लगाई चौपाल, कर दी कई घोषणाएं

जनता के बीच CM मनोहर लाल ने लगाई चौपाल, कर दी कई घोषणाएं

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में पहले भी 9 सीएम आ चुके हैं और वह खुद दसवें सीएम हैं। हर कोई गांवों में 24 घंटे बिजली देने की बात कहता था, लेकिन पूर्व सीएम बंसीलाल के राज में केवल 150 गांवों में 24 घंटे बिजली मिलती थी। उसके बाद अब केवल भाजपा सरकार ऐसी है, जिसमें 2800 गांवों को 24 घंटे बिजली मिल रही है। वह चाहते हैं कि हर गांव को 24 घंटे बिजली मिले, लेकिन उसके लिए सभी गांव के लोगों को बिल जमा करना होगा। इसके लिए ही सरकार ने बिल पर ब्याज माफी से लेकर उसे किश्तों में जमा कराने की योजना चलाई हुई है।

जनता के बीच CM मनोहर लाल ने लगाई चौपाल, कर दी कई घोषणाएं

सीएम मनोहर लाल सोमवार को मुरथल गांव के राजकीय कन्या महाविद्यालय में पहुंचे थे। जहां ग्रामीणों ने नगर निगम से गांवों को बाहर किए जाने के कारण सीएम का धन्यवाद कार्यक्रम रखा था। वहां सीएम ने कहा कि जब हमने चार साल पहले सत्ता संभाली थी तो प्रदेश में 70 प्रतिशत लाइनलोस था और बिजली निगम बड़े घाटे में चल रहा था। इसके बाद प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार से 27 हजार करोड़ रुपये लेकर घाटा कम करने का काम किया और इस समय 13 प्रतिशत लाइन लोस कम करके पांच हजार करोड़ रुपये बचाए जा रहे हैं।

सीएम ने कहा कि भाजपा सरकार ने प्रदेश में बिजली के दाम आधे कर लोगों को राहत देने का काम किया है और सरकार चाहती है कि हर गांव में 24 घंटे बिजली मिले। लेकिन उसके लिए सभी को बिल जमा करना होगा, जिससे बिजली निगम का घाटा पूरी तरह से खत्म होकर सभी को भरपूर बिजली दी जा सके। सीएम ने कहा कि ग्रामीणों की मांग पर 13 गांवों को नगर निगम से बाहर करने का कार्य किया।

सीएम ने पिछली सरकारों पर हमला बोलते हुए कहा कि उस समय जमीनों की दलाली की जाती थी और लोगों की जमीन पर सेक्सन 4, 6 व 9 लगाकर बाद में बिल्डरों को बेचने का कार्य किया जाता था। लेकिन भाजपा सरकार ने कोई भी जमीन अधिग्रहण नहीं की और जितनी भी विकास योजनाएं लाई जा रही हैं, वह लोगों की सहमति से लाई जा रही हैं। किसानों ने बताया कि 2017 में सोनीपत शुगर मिल खराब हो गई थी तो उस समय किसानों ने यूपी के बागपत की शुगर मिल में गन्ना डाला था।

उस समय का 3 करोड़ 32 लाख रुपया अभी तक बकाया है। इस पर सीएम मनोहर लाल ने कहा चंडीगढ़ जाते ही यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से बात करेंगे और किसानों की बकाया राशि को दिलवाया जाएगा। वहां लोगों ने नगर निगम में शामिल हुए गांवों के हाउस टैक्स माफ करने की मांग उठाई तो सीएम ने कहा कि निगम में शामिल गांवों का टैक्स कुछ समय के लिए माफ किया जाता है और वह नियम के अनुसार होता है। क्योंकि उस टैक्स के सहारे ही विकास कार्य कराए जाते हैं।

वहां लोगों ने सीएम के सामने विकास कार्यों से जुड़ी काफी मांगों को रखा, जिनको सीएम मनोहर लाल ने दिखवाने के बाद पूरा कराने का आश्वासन दिया। लोगों ने पगड़ी व शॉल भेंट करके सीएम का सम्मान किया। इस दौरान सांसद रमेश कौशिक, हरियाणा मार्केटिंग बोर्ड की चेयरपर्सन कृष्णा गहलावत, व्यापार कल्याण बोर्ड के सदस्य मोहन लाल बड़ौली, आजाद नेहरा, रविंद्र दिलावर, निशांत छौक्कर, जिला परिषद के वाइस चेयरमैन बिजेंद्र मलिक, जयभगवान, मनिंद्र सन्नी आदि मौजूद रहे।

सीएम ने मंच से कुर्सी उतरवाकर लोगों के बीच में डलवाईं, खुद पंचायत लगाई
सीएम मनोहर लाल जब मुरथल गांव में पहुंचे तो उन्होंने देखा कि अधिकारियों ने वहां जनसभा के लिए पूरा मंच बनाया हुआ है और उसके आगे डी भी बनाया हुआ है। यह देखकर सीएम मनोहर लाल ने अधिकारियों से कहा कि वह कोई जनसभा करने नहीं आए हैं और वह लोगों से केवल मिलने आए हैं। इसलिए वह लोगों के बीच में बैठेंगे।

सीएम ने अपनी कुर्सी मंच से उतरवाकर नीचे डलवा ली और लोगों को डी के अंदर ही पास में आकर बैठने के लिए कह दिया। जिसके बाद सभी लोग सीएम के पास आकर बैठ गए और लोगों ने सीएम के साथ खुलकर बातचीत की। लोगों ने सीएम के सामने अपनी बात रखी और सीएम ने उनकी बातों को सुनकर हर किसी की बात का जवाब भी दिया। 

देरी पर आने के लिए सीएम ने मजाकिया लहजे में दिया जवाब

सीएम मनोहर लाल जब मुरथल में पहुंचे तो वहां लोगों ने उनसे बताया कि वह शाम के पांच बजे से वहां बैठे हुए हैं। इसपर सीएम मनोहर लाल ने मजाकिया लहजे में एक कहावत के सहारे जवाब दिया। सीएम ने बताया कि उनको सात बजे का समय दिया गया था। लेकिन वहां आधा घंटे पहले का समय खुद ही अधिकारियों ने आयोजकों को बताया होगा।

उसके बाद आधे घंटे पहले का समय आयोजकों ने लोगों को बता दिया होगा और इस तरह ही साढ़े पांच बजे का समय दे दिया गया। जिस पर सीएम ने कहा कि वह इस समय की भरपाई कर देंगे और उनके बीच में परिवार का सदस्य बनकर बैठेंगे। जिसपर लोगों ने कहा कि पहली बार कोई सीएम इस तरह लोगों के बीच में बैठकर समस्या सुन रहा है।

निगम से बाहर किए गए गांवों का रुपया व जमीन जल्द वापस देंगे
लोगों ने सीएम मनोहर लाल से बताया कि जिन गांवों को नगर निगम से बाहर किया गया था, उनका काफी रुपया व जमीन अभी तक नगर निगम के पास है। जिस पर सीएम ने अधिकारियों को बुलाकर उसके बारे में जानकारी जुटाई। इसके साथ ही सीएम ने कहा कि इन सभी गांवों का जितना पैसा बचा हुआ है, वह वापस कर दिया जाएगा और जमीन भी वापस कर दी जाएगी।

सीएम ने बताया कि लगभग 25 करोड़ रुपये के विकास कार्य गांवों में हो चुके हैं। जिसमें जितना विकास हो चुका है, उसका रुपया काटकर वापस दे देंगे। इसके अलावा लोगों ने सीएम के सामने काफी समस्याएं रखीं, जिनको पूरा कराने का आश्वासन दिया गया।

Loading...

Check Also

भतीजे ने की नई पार्टी की तैयारी पूरी तो चाचा ने दिया घर वापसी का ऑफर

भतीजे ने की नई पार्टी की तैयारी पूरी तो चाचा ने दिया घर वापसी का ऑफर

 इनेलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला के पौत्र दुष्यंत चौटाला और दिग्विजय चौटाला ने अपनी नई पार्टी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com