Home > राज्य > बिहार > तेजस्वी ने CM नीतीश को तंज कसते हुए कहा- बिहार का कलेजा छलनी कर दिए पलटीमार

तेजस्वी ने CM नीतीश को तंज कसते हुए कहा- बिहार का कलेजा छलनी कर दिए पलटीमार

पटना। राजद नेता तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर एक बार फिर से तंज कसा है। नेता प्रतिपक्ष ने नीतीश सरकार को लूट, अपहरण, रंगदारी, हत्या, डकैती, और भ्रष्टाचार के लिए जिम्मेदार ठहराया है। साथ ही सीएम नीतीश को पलटीमार भी कहा है।तेजस्वी ने CM नीतीश को तंज कसते हुए कहा- बिहार का कलेजा छलनी कर दिए पलटीमार

तेजस्वी यादव ने प्रदेश में बढ़ रहे अपराध को लेकर नीतीश सरकार पर निशान साधा है और ट्वीट किया है इसके साथ ही उन्होंने एक कार्टून भी पोस्ट किया है। वहीं, तेजस्वी ने एक और ट्वीट किया है जिसमें उन्होंने ट्रांसफर-पोस्टिंग को लेकर लिखा है कि बिहार में जून महीने में ट्रान्स्फ़र-पोस्टिंग के नाम पर तबादला इंडस्ट्री मे 200 करोड़ का अवैध निवेश हो रहा है। खुली बोली लग रही है। सभी मंत्री जान रहे है पता नहीं कब कुर्सी बाबू की अंतरात्मा पलटी मार जाए इसलिए सब 3 साल की अनिवार्यता दरकिनार कर मास लेवल पर तबादले कर लूट मचाए हुए है।

नीतीश कुमार भ्रष्टाचार के धृतराष्ट्र बने हुए है। उनकी नाक के नीचे ट्रान्स्फर-पोस्टिंग के नाम पर भाजपाई मंत्रियों और उनके चेहतों ने तबादला मंडी मे सरेआम अपनी दुकाने सज़ाकर रेट फ़िक्स किया हुआ है। एकदम खुल्लम-खुल्ला जो अधिकारी बोली लगाकर मनपसंद जगह जाएगा वह क्या लूट नहीं मचाएगा?

आरजेडी नेता ने ट्विटर पर एक कार्टून भी ट्वीट किया, जिसमें बिहार को तीर से लहूलुहान दिखाया गया है। साथ ही उन्होंने लिखा कि लहूलुहान है बिहार, शिकारी है सरकार। पूर्व मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि अपराध को लेकर बिहार में चारों तरफ हाहाकार मचा गया है। हत्या, अपहरण, डकैती और बलात्कार जैसी घटनाएं अब आम बात हो गई है। नीतीश सरकार ने बिहार का कलेजा छलनी कर दिया है।

Loading...

Check Also

महागठबंधन में शामिल होने के लिए शिवपाल यादव ने रखी बेहद कड़ी शर्त...

महागठबंधन में शामिल होने के लिए शिवपाल यादव ने रखी बेहद कड़ी शर्त…

प्रगतिशील समाजवादी के संरक्षक शिवपाल सिंह यादव ने 2019 के चुनाव में यूपी में संभावित …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com