बोर्ड के 10वीं और 12वीं के पेपर लीक के बाद हरकत में आई सरकार, अब इस तरह होगी परीक्षा

- in करियर

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के 10वीं और 12वीं कक्षा के दो पेपर लीक होने के बाद सरकार हरकत में आई है. सरकार ने पेपर लीक से बचने के लिए आगामी परीक्षाओं को लेकर कड़े नियम बनाए हैं. केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि सीबीएसई ने पेपर लीक रोकने के लिए कड़े कदम उठाए हैं. साथ ही बोर्ड अब परीक्षा के आयोजन में नया पैटर्न अपनाने की तैयारी कर रही है. सरकार की ओर से उठाए कदम इस प्रकार है-

बोर्ड के 10वीं और 12वीं के पेपर लीक के बाद हरकत में आई सरकार, अब इस तरह होगी परीक्षा– इलेक्ट्रॉनिकली कोडेड पेपर एग्जामिनेशन सेंटर्स को भेजा जाएगा.

– आधा घंटे पहले सेंटर्स को इलेक्ट्रॉनिक पेपर भेजा जाएगा.

– पासवर्ड प्रूफ होगा सीबीएसई पेपर.

– सेंटर पर ही प्रिंट आउट निकालकर छात्रों को एग्जाम पेपर बांटा जाएगा.

बता दें कि बोर्ड ने बुधवार को आयोजित हुए कक्षा 10वीं के गणित और 12वीं कक्षा के एकोनॉमिक्स के पेपर को रद्द कर दिया है. अब बोर्ड इन दोनों परीक्षा का आयोजन दोबारा करेगा. साथ ही जल्द ही बोर्ड परीक्षा की तारीखों का ऐलान कर दिया जाएगा.

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी प्रकाश जावड़ेकर से पेपर लीक को लेकर बातचीत की है और अपनी नाराजगी व्यक्त की है. जावड़ेकर ने ये भी कहा कि हमें जानकारी मिली है कि पेपर वॉट्सएप से आधे घंटे पहले ही लीक हुआ था  और सोमवार से नया सिक्योरिटी मैकेनिस्म लागू किया जाएगा. सोमवार से हम फेयर परीक्षा करवाने के लिए सुनिश्चित करते हुए कड़े कदम उठा रहे हैं.

सरकारी सूत्रों के अनुसार छात्रों को परेशान होने की आवश्यकता नहीं है और छात्रों के हितों का ध्यान रखा जाएगा. वहीं गणित के पेपर लीक से जुड़े गिरोह के बारे में पता लगा लिया गया है. सरकार दोबारा होने वाली परीक्षा में पेपर लीक से बचने के लिए एक सुरक्षित सिस्टम लाने की कोशिश कर रही है. बोर्ड जल्द से जल्द इस परीक्षा का आयोजन करेगा और अगले हफ्ते तक परीक्षा की तारीखों का ऐलान भी कर दिया जाएगा.

You may also like

लोअर पीसीएस-2015 के चयनितों को चार माह बाद भी नियुक्ति का इंतजार – राघवेन्द्र प्रताप सिंह

लखनऊ। एक ओर जहाँ सूबे की योगी आदित्यनाथ