अफगान तालिबान अमेरिका से बातचीत करने के लिए हुए तैयार

अफगान तालिबान ने मंगलवार को एलान किया कि वह अमेरिका के साथ बातचीत के लिए तैयार है। अफगानिस्तान मसले के राजनीतिक हल के राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रयासों के बीच आतंकी संगठन का रुख सामने आया है।

इस्लामिक एमिरेट ऑफ अफगानिस्तान के राजनीतिक कार्यालय (सत्ता से हटाए गए तालिबान शासन का नाम) ने कतर में अमेरिकी अधिकारियों के साथ सीधी बातचीत की बात कही है। उसने कहा कि वह अफगान मसले का शांतिपूर्ण हल तलाशना चाहता है।

श्रीलंका की चीन को दो टूक- नहीं करने देंगे हंबनटोटा पोर्ट का सैन्य इस्तेमाल

हाल ही में अमेरिकी मुख्य उप सहायक विदेश मंत्री (दक्षिण और मध्य एशिया मामला) एलिस वेल्स ने अफगानिस्तान में अफगान नेताओं से मुलाकात की थी। उन्होंने कहा था कि तालिबान से बातचीत के लिए अमेरिका के दरवाजे खुले हैं। तालिबान ने वेल्स के बयान के जवाब में बातचीत का रुख अपनाया।

तालिबान ने कहा कि अमेरिका और उसके सहयोगियों को स्पष्ट हो जाना चाहिए कि अफगान मसले का हल सैन्य कार्रवाई से नहीं हो सकता। इसलिए अमेरिका को अफगानिस्तान में युद्ध के बजाय शांतिपूर्ण रणनीति पर ध्यान देना चाहिए। सैन्य रणनीति किसी के हित में नहीं है।

You may also like

चीन ने तालिबान के साथ शांति वार्ता के लिए पाक-अफगान कार्ययोजना का किया स्वागत 

चीन ने पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी