उत्तर प्रदेश में जालौन जिले के कदौरा थाना क्षेत्र से कत्ल का एक रुह कंपा देने वाला मामला सामने आया है. इस हत्या की घटना ने देवर और भाभी के रिश्ते को शर्मसार कर दिया. सनकी देवर ने महज शक के आधार पर अपनी विधवा भाभी की हत्या कर दी. लेकिन उसे स्थानीय लोगों ने गिरफ्तार कर पुलिस के हवाले कर दिया.

यह है पूरा मामला

हत्यारे देवर शिशुपाल को शक था की उसके घर से उसकी विधवा भाभी सामान चुराती थी. इस शक को मन में लिए शिशुपाल उबल रहा था. एक दिन जब दोपहर गुड्डो देवी (24) पत्नी स्व. इंद्रपाल अपने खेत से काम कर घर पहुंची ही थी कि उसका अपने देवर शिशुपाल से विवाद होने लगा.

शादी के दिन लापता दुल्हे की मिली लाश, दुल्हन पर बढ़ा शक

गुस्से में शिशुपाल ने घर में रखे सिलबट्टे से महिला का मुंह और सिर कुचल दिया, जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई. वहीं इस घटना के दौरान जब मृतक महिला के 11 साल के भाई ने उसे बचाने की कोशिश की तो उसे भी शिशुपाल ने मारने का प्रयास किया. शोर-शराबा सुनकर पड़ोसी पहुंचे और आरोपी शिशुपाल को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया.

फिलहाल आरोपी देवर पुलिस के गिरफ्त में हैं और उसने अपना गुन्हा काबुल कर लिया है. आरोपी ने पुलिस हिरासत में स्वीकार किया कि महिला उसके घर में चोरी कर लेती थी, इसी वजह से नाराज होकर उसकी हत्या कर दी. देवर और भाभी बंटवारे के बाद एक ही घर में अलग-अलग रहते थे.