ऐसा क्या है औरत के Breasts में जो लोग इसे देख कर इतना उत्तेजित हो जाते हैं, जानें ये मजेदार रहस्य

राह चलते मेरी आदत नज़रें नीचे कर चलने की है. मेरी ये आदत कई सालों में बनी और हज़ारों बार कोशिश करने के बावजूद मैं इसे ठीक नहीं कर पा रही हूं. नज़रें नीची कर चलने की आदत लगी थी, जब मैं बड़ी हो रही थी. स्कूल से घर आते वक़्त कई बार नोटिस करती थी कि लोग मेरे शरीर के एक बढ़ते हुए हिस्से को बड़ी अलग नज़रों से देख रहे हैं. दुकानदार या ऑटो वाले बात करते वक़्त मेरे चेहरे पर देख तो रहे होते थे, पर उनकी आंखें उन्हें धोखा दे कर कहीं और जा रही होती थीं. मुझे एहसास था कि मेरे शरीर में कुछ बदलाव आ रहे हैं, लेकिन ये भी पता था कि बदलाव लड़कों के शरीर में भी आ रहे थे. फिर उन्हें कोई घूर कर क्यों नहीं देखता था? मेरी बॉडी में ऐसा क्या हो रहा था, जो अचानक से सारे मर्दों की नज़र इस पर पड़ जाती थी?

कितनी अजीब बात है, न जब एक औरत एक बच्चे को स्तनपान करवा रही होती है, तो उसके उसी अंग को पूजा जाता है, जीवन के तौर पर देखा जाता है, लेकिन उसके अलावा उन्हें अश्लील समझा जाता है!

तर्क देने वाले ये भी तर्क देंगे कि स्तन उतने ही Sexual Organ हैं, जितना कि Vagina. दोनों का ही इस्तेमाल प्रजनन के लिए होता है, इसलिए स्तनों को देख कर आदमी उत्तेजित हो जाते हैं.

इस तर्क पर मेरे कई सवाल हैं और इसका उत्तर भी.

Omg: इस पेड़ पर फल नहीं उगती हैं औरतें, पूरी खबर उड़ा देगी आपके होश…

प्रकृति ने महिलाओं के शरीर में स्तन एक ही वजह से दिए, वो वजह थी अपने बच्चे को पोषण देने की. एक ऑर्गन के तौर पर Breasts का एकमात्र यूज़ ये ही है. फिर उन्हें इतना Glamorize क्यों किया जाता है?

मुझे समाज का ये दोगलापन भी समझ नहीं आता, जिसमें एक तरफ़ तो आप Female Body का इस्तेमाल Marketing के लिए करते हो, वहीं अगर एक औरत खुले में Breastfeed करवाती है, तो वो आपके लिए शर्म की बात हो जाती है. क्यों?

स्तन भी शरीर के वैसे ही अंग हैं, जैसे हाथ-पैर, फिर उन्हें लेकर ऐसा व्यवहार सच में समाज का पिछड़ापन दिखाता है.

इंसान जब धीरे-धीरे सामाजिक प्राणी बन रहा था, तब एक औरत के बाल, उसके Hips और उसके स्तन को देख कर ये तय किया जाता था कि वो प्रजनन के लिए फ़िट है या नहीं. इसीलिए पहले के समय में महिलाओं की पेंटिंग्स में उन्हें Fuller Body (भरे हुए शरीर) में दिखाया जाता था. और यही वजह थी कि लड़कियों के लंबे बालों को Ideal माना जाता था.

 

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Copy is not permitted !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com