योगी राज में अब तक पुलिस एनकाउंटर में मारे गए बदमाशों की संख्या 50

उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ द्वारा अपराधियों के खिलाफ शुरू किया गया अभियान बदस्तूर जारी है. UP पुलिस ने अपराधियों के खिलाफ ‘ऑपरेशन ऑलआउट’ के तहत एक और इनामी अपराधी को मार गिराया है. योगी के मुख्यमंत्री बनने के बाद से उत्तर प्रदेश में पुलिस एनकाउंटर में मारा गया यह 50वां अपराधी है.

यह एनकाउंटर गुरुवार को मुजफ्फरनगर में हुआ. मुजफ्फरनगर पुलिस ने गुरुवार की देर रात मुकीम काला गैंग के कुख्यात अपराधी 50 हजार के इनामी रेहान को मुठभेड़ में मार गिराया. पुलिस ने बताया कि रेहान के खिलाफ 15 से अधिक केस दर्ज हैं, जिनमें हत्या और हत्या की कोशिश जैसे संगीन मामले भी हैं.

पुलिस के मुताबिक, रेहान मोटरसाइकिल पर अपने एक दोस्त के साथ अपने खिलाफ एक केस की गवाह की हत्या की फिराक में था. रेहान पिछले साल 15 दिसंबर को भी इस महिला पर जानलेवा हमला कर चुका था, हालांकि महिला उस हमले में बच गई थी.

गुरुवार को महिला उपचार के लिए हॉस्पिटल गई हुई थी और पुलिस को ऐसी सूचना मिली कि रेहान एकबार फिर से महिला पर हमला करने की फिराक में है. तत्काल पुलिस ने इलाके की नाकाबंदी कर दी. बाइक सवार रेहान और उसके साथी को पुलिस ने जब रोका तो बदमाशों ने पुलिस पर फायर झोंक दिया.

पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की और रेहान को मार गिराया. हालांकि उसका साथी बदमाश फरार होने में सफल रहा. रेहान के मारे जाने के साथ ही उत्तर प्रदेश में 20 मार्च 2017 को योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद से अब तक पुलिस एनकाउंटर में मारे गए बदमाशों की संख्या 50 पहुंच गई.

विडियो: 2 दिन से नाले में फंसा था कुत्ता, इस शख्स ने चंद घंटे में ड्रोन बनाकर बचाई जान

बता दें कि योगी आदित्यनाथ ने सूबे की कानून व्यवस्था को नियंत्रित करने और अपराधियों पर नकेल कसने के लिए पुलिस को एनकाउंटर करने की खुली छूट दी हुई है. सूबे में पिछले एक साल में पुलिस और अपराधियों के बीच 1200 एनकाउंटर में 50 ख़तरनाक अपराधी ढेर किए जा चुके हैं. इसके अलावा करीब 2000 से ज्यादा अभियुक्त गिरफ्तार हुए हैं.

सत्ता में आते ही योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि गुंडे और बदमाश यूपी छोड़कर चले जाएं , नहीं तो जेल जाने के लिए तैयार रहें. अपराधियों के खिलाफ यूपी पुलिस की ताबड़तोड़ कार्रवाइयों का ही नतीजा है कि अपराधी खुद थाने पहुंचकर सरेंडर कर रहे हैं और बाकायदा पुलिस को शपथ-पत्र दे रहे हैं कि आगे से वे किसी तरह के अपराध में संलिप्त नहीं रहेंगे.

=>
=>
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

नृत्य प्रतियोगिता का प्रथम पुरस्कार सीएमएस छात्रा को

लखनऊ : सिटी मोन्टेसरी स्कूल, अलीगंज (प्रथम कैम्पस)