आज के दिन आयरलैंड में सचिन ने किया था ये बड़ा कारनामा, जिसे अबतक कोई दूसरा छू भी नहीं सका

- in खेल

आज 29 जून 2007 को सचिन तेंदुलकर ने अपने नाम ऐसा मुकाम हासिल किया था जिसे आज तक कोई भी क्रिकेट बल्लेबाज उसे हासिल करना तो दूर उसके करीब तक नहीं पहुंच सका है. सचिन ने साल 2007 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 93 रनों की शानदार पारी खेलते हुए अपने वनडे करियर में 15000 रन पूरे करने का खास मुकाम हासिल किया था. खास बात यह है कि इसके बाद सचिन ने रिटायर होने से पहले 18000 से भी ज्यादा रन बना डाले लेकिन कोई भी बल्लेबाज 15000 का आंकड़ा भी छूने में कामयाब नहीं हो सका. इससे भी ज्यादा दिलचस्प बात यह है कि मौजूदा खिलाड़ियों में अभी कोई भी 10,000 रनों के आकड़ा छू नहीं पाया है. 

 सचिन तेंदुलकर को यूं ही महान खिलाड़ी नहीं कहा जाता. उनकी बल्लेबाजी के रिकॉर्ड देख कर ही किसी को यकीन भी नहीं होता कि ऐसा क्रिकेट इतिहास के किसी दौर में कभी मुमकिन भी हो सकता है या कभी हो सकता था. जब साल 2007 में आयरलैंड में भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन वनडे मैचों की सीरीज हो रही थी. इसका दूसरा वनडे आज ही के दिन हुआ था. इस मैच में भारत की अगुवाई राहुल द्राविड़ कर रहे थे तो वहीं दक्षिण अफ्रीका की कप्तानी जैक कालिस कर रहे थे और पहला मैच दक्षिण अफ्रीका जीत चुका था. 

दूसरे मैच में राहुल द्रविड़ ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया. इस मैच में कप्तान कालिस और दिग्गज एबी डिविलियर्स तो नहीं चल सके लेकिन एमएन वैन व्येक के सबसे ज्यादा 82 रन और मार्क बाउचर के नाबाद 55 रनों की बदौलत दक्षिण अफ्रीका ने 50 ओवर में 226 रन बनाए. जे पी डुमिनी ने 40 रनों को योगदान दिया. 

इसके जवाब में जब टीम इंडिया बल्लेबाजी करने उतरी तो मास्टर ब्लास्टर सचिन ने अपने चिरपरिचित अंदाज में ही गेंदों को चुन चुनकर मारना शुरू किया और उनका साथ देते हुए  सौरव गांगुली ने बढ़िया बल्लेबाजी का प्रदर्शन किया और पहले विकेट के लिए 134 रन जोड़ डाले. 29 ओवर में पहले सौरव 42 रन बनाकर आउट हुए तब तक सचिन 89 रन पर पहुंच चुके थे. लेकिन इसके बाद कप्तान राहुल द्रविड़ जल्दी आउट हो गए और उसके बाद 32वें ओवर में सचिन 93 रन बनाकर आउट हुए. हालाकि एमएस धोनी के शून्य पर आउट होने के बाद  टीम का स्कोर 142 पर चार हो गया था लेकिन युवराज सिंह और दिनेश कार्तिक ने सचिन और सौरव की मेहनत को बेकार नहीं जाने दिया और टीम को 85 रनों की नाबाद पारी खेलकर टीम को जीत दिलाकर न केवल सीरीज 1-1 से बराबर की बल्कि सचिन के 15000 रन पूरे करने वाले मैच को सचिन के लिए विजयी मैच बना दिया. 

इस मैच में सचिन ने दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों की जमकर खबर ली. एक दो बार को छोड़ कर सचिन ने मखाया नतिनी, लॉन्गवेल्ट, आंद्रे नील और एन्ड्रयू हॉल, और थांडी शाबलाला को हावी होने का कोई मौका नहीं दिया. केवल एक बार कप्तान जैक कालिस  स्लिप पर थोड़ी दूर पर कैच लेने से चूक गए और दो बार एलबीडब्ल्यू की अपील से बचने के अलावा सचिन ने बता दिया की उनकी बल्लेबाजी का अंदाज खास क्यों है. इस मैच में जैसे ही सचिन ने अपना अर्धशतक पूरा किया वे वनडे क्रिकेट इतिहास में 15000 रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज बन गए. इस मैच के बाद सचिन का वनडे रिकॉर्ड कुछ यूं था 

FIFA2018: नॉकआउट में अर्जेंटीना और फ्रांस आमने-सामने, मेसी-पोग्बा पर होगी नजर

384 मैच,  15043 रन, औसत – 44.24, सर्वोच्च स्कोर 186 नाबाद, शतक 41, अर्धशतक 79, और स्ट्राइक रेट 85.62. सचिन के रिकॉर्ड ही बता देते हैं कि उनका करियर कितना शानदार रहा. 18 मार्च 2012 को अंतिम वनडे खेलने के बाद सचिन 463 वनडे खेल चुके थे और 18426 रन भी बना चुके थे इस में उनका उच्चतम 200 रन था, जब कि औसत 44.38, शतक 49, अर्धशतक 96 और स्ट्राइक रेट 86.23 का था. 

अभी ये है वनडे में सबसे ज्यादा रनों के रिकॉर्ड

अभी की बात की जाए तो सचिन के 18426 रनों के बाद श्रीलंका के कुमार संगकारा 14234 रन के साथ दूसरे स्थान पर हैं जिनके बाद ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग 13704 रनों के साथ तीसरे, श्रीलंका के ही सनथ जयसूर्या 13430 रनों के साथ चौथे, श्रीलंका के महिला जयवर्धने 12650 रनों के साथ पांचवे, पाकिस्तान के इंजमाम उल हक 11739 रनों के साथ छठे, दक्षिण अफ्रीका के जैक कालिस 11579 रनों के साथ सातवें, भारत के सौरव गांगुली 11363 रनों के साथ आठवें, भारत के कप्तान राहुल द्रविड़ 10889 रनों के साथ नौवे और वेस्ट इंडीज के ब्रायन लारा 10405 रनों के साथ दसवें स्थान पर हैं. अभी जो खिलाड़ी वनडे क्रिकेट खेल रहे हैं उनकी बात की जाए तो उनमें सबसे उपर भारत के एमएस धोनी 12वें नंबर 9967 रनों के साथ मौजूद हैं. भारत के कप्तान विराट कोहली 9588 रनों के साथ 15वें स्थान पर हैं. इस तरह से देखा जाए तो अभी कुछ सालों तक तो सचिन के आसपास तो दूर 15000 का आंकड़ा भी किसी भी खिलाड़ी के लिए दूर की कौड़ी ही है. 

सम्बंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पाकिस्तान की हार के बाद सरफराज बोले- सिर्फ दो स्पिनरों के लिए की थी तैयारी

नई दिल्लीः एशिया कप के 5वें मुकाबले में भारतीय