चूंकि यासमीन राजस्थान चित्तौड़ गढ़ की रहने वाली है। उससे जब नेहा के बारे में पता कराया गया तो उसने अपने घर वालों के जरिए नेहा की डिटेल इकट्ठा की। डिटेल में उन्हें एक राशन कार्ड मिला। जिसमे नेहा और उसके तीन बच्चों की डिटेल थी। जिससे तीसरी शादी के बारे में जानकारी हुई।

BJP विधायक का विवादित बयान, कहा-लड़कियों को अकेले नहीं घूमना चाहिए

15 दिन पहले बनी थी फेंडः अफशा ने बताया कि 15 दिन पहले उसके पास यासमीन की फ्रेंड रिक्वेस्ट फेसबुक पर आई थी। फिर दोनों में बात शुरू हो गई। दोनों ने अपने पतियों के बारे में बात की तो परत दर परत खुलती गई। खाते में मंगवाता था रुपये, हुआ शक अफशा ने बताया कि समीर ने उसके खाते में कई बार यासमीन से रुपये मंगवाए।

इसके अलावा कई बार नेहा को उसने रुपये भेजे। यह बात खटकती रहती थी। वह यासमीन से रुपये मंगाकर उन्हें अपने खर्च में प्रयोग करता था। कई बार दोनों के बैंक खातों में रुपयों का आदन-प्रदान किया गया। यासमीन के खाते से कई बार नेहा को रुपये ट्रासफर किए, जिससे उनका शक गहराता गया।