18 मार्च दिन रविवार का राशिफल: जानिए कैसा रहेगा आज आपके लिए नवरात्रि का पहला दिन

।।आज का पञ्चाङ्ग।।

18 मार्च दिन रविवार मंगलमय हो 

18 मार्च दिन रविवार का राशिफल: जानिए कैसा रहेगा आज आपके लिए नवरात्रि का पहला दिन  ऋतु-बसंत
माह-चैत्र
पक्ष-शुक्ल
तिथि-प्रतिपदा
सूर्य-उत्तरायण
सूर्योदय-06:01
सूर्यास्त-05:59
राहूकाल(अशुभसमय)शायं
04:30 से 06:30 तक
दिशाशूल-पश्चिम
शुभदिशा-पूर्व
अभिजितमुहूर्त- दोपहर
11:36 से12:24 तक
अमृतमुहूर्त -सुबह 20:59 से 12:30 तक

।।आज का राशिफल।।

मेष:-आज आपका व्यापार उत्तम रहेगा। विवाहोत्सुकों को जीवनसाथी मिलने का योग है। सामाजिक रूप से आपको यश-कीर्ति मिलेगी। व्यापार में लाभ होगा। स्वास्थ्य बिगड़ सकता है। स्वजनों के साथ मतभेद होगा। धन खर्च होगा।
सुझाव:-आज आप दुर्गा सप्तशती का दान पीले वस्त्र में किसी योग्य ब्राम्हण को दक्षिणा सहित दें।
राशिरत्न:-मूँगा

वृष:-आज पारिवारिक जीवन में सुख-संतोष का अनुभव होगा। आपके कार्य की सराहना होगी और उच्च अधिकारी आप पर प्रसन्न रहेंगे। मध्याह्न के बाद नए कार्य का आप आयोजन कर पाएंगे। व्यापार में लाभ होगा प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी।
सुझाव:-आज आप श्री राम रक्षा स्त्रोत्र का यथा शक्ति पाठ करें।
राशिरत्न:-हीरा,ओपल

मिथुन:-आजका दिन मिश्रित फलदायी रहेगा। स्वास्थ्य में कुछ उतार-चढ़ाव आएगा। कार्यक्षेत्र में अधिकारियों की अप्रसन्नता से मन व्यग्र हो सकता है। धनका व्यय अधिक होगा। संतानों की चिंता सताएगी। धन की प्राप्ति होगी। 
सुझाव:-आज आप माँ दुर्गा को विल्व फल य्या मुरब्बा अर्पित करें।
राशिरत्न:-पन्ना

कर्क :- आज क्रोध की अधिकता पर नियंत्रण रखें, अनैतिक कार्यों और नकारात्मक विचारों से दूर रहें। धन की तंगी महसूस कर सकते हैं। आमोद-प्रमोद के पीछे धन का व्यय होगा। व्यावसायिक स्थल पर अधिकारियों से संभलकर रहिएगा। वाद-विवाद से दूर रहें ।
सुझाव:-आज आप कन्याओं को भोजन करावें।
राशिरत्न:-मोती

सिंह :- आज आप मित्रों और स्नेहीजनों के साथ आनंद के पल गुजारेंगे। मध्याह्न के बाद अधिक विचारों के कारण मानसिक रूप से आप थकान महसूस करेंगे। क्रोध की अधिकता रहेगी, वाणी पर संयम रखें। धन की तंगी हो सकती है। 
सुझाव:-आज आप हल्दी की माला भगवती को अर्पित करें।
राशिरत्न:-माणिक्य

कन्या:- आजका दिन आपके लिए शुभ रहेगा। कार्य में सफलता मिलने से आज आप आनंदित रहेंगे। आपकी यश-कीर्ति में भी वृद्धि होगी। परिवार का वातावरण अनुकूल रहेगा। मध्याह्न के बाद आपका दिन मनोरंजन में बीतेगा। व्यापार में साझेदारों से लाभ होगा। 
सुझाव:-आज आप माँ भगवती को मंदार पुष्प की माला अर्पित करें।
राशिरत्न:-पन्ना

तुला:- आज लेखनकार्य और सृजनात्मक प्रवृत्तियों के लिए आज का दिन शुभ है। आज कुछ अधिक भावनाशील रहेंगे। व्यावसायिक स्थल पर वातावरण अनुकूल रहेगा और सहकर्मियों का साथ मिलेगा। परिवार में आनंद का वातावरण रहेगा। 
सुझाव:-आज आप श्री सीताराम जी का सविधि पूजन करें।
राशिरत्न:-हीरा,ओपल

वृश्चिक:-आज भावुकता पर संयम रखने से मानसिक व्यग्रता का अनुभव कम होगा। वस्त्राभूषण एवं सौंदर्य प्रसाधनों के पीछे खर्च होगा। माता से लाभ होगा। नए काम की शुरुआत न करें। पेट में तकलीफ हो सकती है। 
सुझाव:-आज आप माता रानी को मेवा मिश्री का भोग अर्पित करें।
राशिरत्न:-मूँगा

धनु :-आज भाग्यवृद्धि का योग है, परंतु मध्याह्न के बाद कुछ अधिक ही संवेदनशीलता का अनुभव करेंगे। मानसिकरूप से व्यग्रता रहेगी। प्रसाधनों के पीछे स्त्रियों का धन का व्यय होगा। जमीन, मकान, वाहन आदि का सौदा संभलकर कीजिएगा।
सुझाव:-आज आप पीले फलों का दान माँ के मंदिर में करें।
राशिरत्न:-पुखराज

मकर:-आज धार्मिक विचारों के साथ-साथ धार्मिक कार्यो में खर्च भी होगा। मध्याह्न के बाद आपका मन चिंतामुक्त रहेगा। मित्रों-स्वजनों से हुई मुलाकात से मन आनंदित हो उठेगा। आज भाग्यवृद्धि के योग हैं। 
सुझाव:-आज आप दुर्गाअष्टोत्तरशत नाम का यथाशक्ति पाठ करें।
राशिरत्न:-नीलम

कुंभ :- आज आप का मन प्रफुल्लित रहेगा।गहन चिंतनशक्ति और आध्यात्मिकता दोनों में आप का मन डूबा रहेगा। वाणी पर संयम रखिएगा। अनापेक्षिक धन-व्यय से संभलकर चलिएगा। 
सुझाव:-आज आपकेशर युक्त मिष्ठान्न दुर्गा माँ को अर्पित करें।
राशिरत्न:-नीलम

मीन:-आज किसी के साथ विवाद में न पड़े। मन एकाग्र करने का प्रयास कीजिएगा। आज खर्च पर संयम रखना होगा। मध्याह्न के बाद आपके स्वास्थ्य में सुधार होगा। मित्रों से उपहार आदि मिलेंगे। परिजनों से सुख मिलेगा।
सुझाव:-आज आप माँ दुर्गा को पीली मिठाई भोग लगावें।
राशिरत्न:-पुखराज

।।आज के दिन का विशेष महत्व।।

1 आज बसंत ऋतु चैत्र माह शुक्लपक्ष प्रतिपदा तिथि 2075 शके।

2आज नवसंवत्सर प्रारम्भ नवरात्रि का प्रथम दिवस माता शैलपुत्री पूजन व व्रत उपवास सभी का है।
3 कलश स्थापन मुहूर्त सूर्योदय से प्रात: अथवा अभिजीतमुहूर्त दोपहर 11:36 से12:24 तक है।

।।प्रेरणादाई चौपाई।।

जा दिन ते हरि गर्भहिं आए।
सकल लोक सुख संपति छाए।।

अर्थ:-गोस्वामी तुलसीदास जी श्री रामचरितमानस जी मे प्रभु के प्रागट्य की भूमिका का गान करते हुवे स्पष्ट करते हैं कि जब से प्रभू माता कौशल्य के गर्भ में आये तो केवल अयोध्याधाम में ही नही अपितु सम्पूर्ण ब्रम्हाण्ड सुख सवृद्धि स्वयं प्रगट कर अह्यलादित हो उठा और चारों ओर आनन्द ही आनन्द प्रवाहित होने लगा।

।।वास्तु टिप।।

नवरात्रि भर जिस महाभाग के घर नव दिनों तक स्वरबद्ध श्रीरामचरित्रमानस जी का नवाह पाठ होता है वहां सुख सवृद्धि व लक्ष्मी का नित्य वास हो जाता है तथा वास्तु दोष का सर्वथा नास हो जाता है।

।।इति शुभम्।।

।।आचार्य स्वमी विवेकानन्द।।
।।श्रीरामकथा, श्रीमद्भागवतकथा सरस् व्यास व ज्योतिर्विद।।
।।श्री अयोध्याधाम।।
संपर्क सूत्र-9044741252

Loading...

Check Also

इन ख़ास बातों का रखेंगे ध्यान तो झट बदलेगी आपकी किस्मत

इन ख़ास बातों का रखेंगे ध्यान तो झट बदलेगी आपकी किस्मत

कहा जाता है कि व्यवहार व्यक्ति के व्यक्तित्व का आईना होता है। किसी भी व्यक्ति …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com