शाह का बड़ा ऐलान, सीएम राजे के नेतृत्व में ही लड़ा जाएगा विधानसभा चुनाव

- in राजनीति, राजस्थान

जयपुर : राजस्थान में सीएम पद की दावेदारी पर चल रही उठापटक को बीजेपीचीफ अमित शाह ने शनिवार को खत्म कर दिया। शाह ने कहा कि राजस्थान विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ही पार्टी का नेतृत्व करेंगी। राज्य में इस साल के आखिर में विधानसभा चुनाव होने हैं। पिछले तीन विधानसभा चुनावों में भी पार्टी ने वसुंधरा राजे के चेहरे को आगे करके ही चुनाव लड़ा था।

इससे पहले बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एक दिवसीय संगठनात्मक प्रवास पर जयपुर पहुंचे। यहां पर उन्होंने बीजेपी की कार्यसमिति की बैठक को भी संबोधित किया। अमित शाह ने यह तय कर दिया है कि वसुंधरा राजे राजस्थान विधानसभा चुनाव में बीजेपी की ओर से मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार होंगी। 2003, 2008 और 2013 के विधानसभा चुनाव में भी पार्टी ने राजे के चेहरे पर ही भरोसा जताया था। दरअसल, हाल में पार्टी के वरिष्ठ नेता घनश्याम तिवाड़ी ने राजे के खिलाफ बगावत करते हुए बीजेपी छोड़ दी थी। साथ ही उन्होंने नई पार्टी का ऐलान किया था। ऐसे में वसुंधरा को लेकर बीजेपी में संशय की स्थिति बन गई थी। 

कांग्रेस पर अमित शाह ने किया हमला 
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने अपने ऑफिशल ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया, ‘जयपुर में बीजेपी की कार्यसमिति बैठक को संबोधित किया। तुष्टीकरण पर केंद्रित कांग्रेस कभी भी विकास की राजनीति करनेवाली बीजेपी का विकल्प नहीं हो सकती है। दिन-रात एक कर, बूथ स्तर तक संगठन को और मजबूत करके बीजेपी को अजय बनाना हम सभी कार्यकर्ताओं का एक मात्र लक्ष्य होना चाहिए।’ 

विस्तारकों, पालकों के साथ विभिन्न मुद्दों पर हुई चर्चा 
यही नहीं, उन्होंने यह भी ट्वीट किया, ‘भारतीय जनता पार्टी की राजस्थान इकाई के विस्तारकों, पालकों, जिलाध्यक्षों और जिला प्रभारियों के साथ समीक्षा बैठक कर संगठन के विभिन्न विषयों पर चर्चा की।’ 

राजस्थान की मौजूदा मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी अपने ऑफिशल ट्विटर अकाउंट से कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट किया, ‘लोग जान चुके हैं कि चुनावी दौर आते ही कांग्रेस में सत्ता की लालसा इस कदर हावी हो जाती है कि वह रात को दिन और दिन को रात बताने का प्रयास करने लगते हैं लेकिन इन साजिशों को रोकने के लिए अब हमारे कार्यकर्ताओं को तथ्यों के साथ कांग्रेस के दुष्प्रचार का जवाब देना होगा।’ 

राजस्थान में हैं 200 विधानसभा सीटें 
बता दें कि राजस्थान में 200 विधानसभा सीटें हैं। 2013 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को दो तिहाई से ज्यादा बहुमत मिला था। अब तक राजस्थान में कांग्रेस और बीजेपी के बीच चुनाव-दर-चुनाव सत्ता का हस्तांतरण होता रहा है। इस बार माना जा रहा था कि बीजेपी वसुंधरा राजे के अलावा किसी दूसरे चेहरे पर दांव खेल सकती है लेकिन अमित शाह ने सारे कयासों पर ब्रेक लगा दिया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

भाजपा को ‘अपने’ से ही खतरा, पूर्व MLA गिरजा शंकर बिगाड़ सकते हैं खेल

सोहागपुर मध्य प्रदेश के हौशंगाबाद जिले में आता है. सोहागपुर