सूत्रों के मुताबिक नवाज शरीफ के छोटे भाई शाहबाज होंगे PML-N के अंतरिम अध्यक्ष

पाकिस्तानी पंजाब के मुख्यमंत्री शाहबाज शरीफ ने शनिवार को पूर्व प्रधानमंत्री और अपने बड़े भाई नवाज शरीफ को जाति उमरा में अपने निवास पर बुलाया था, जहां जिओ न्यूज के मुताबिक नवाज ने शाहबाज को सत्तारूढ़ पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के अंतरिम अध्यक्ष बनाने की बात कही।

सूत्रों के मुताबिक नवाज शरीफ के छोटे भाई शाहबाज होंगे PML-N के अंतरिम अध्यक्षबैठक में नवाज ने औपचारिक रूप से पंजाब के मुख्यमंत्री को इस फैसले से अवगत कराया, सूत्रों के मुताबिक शाहबाज को पार्टी के अंतरिम अध्यक्ष बनाने की मंजूरी, 27 फरवरी को पीएमएल-एन केंद्रीय कार्यकारी समिति की बैठक में ली जाएगी।

सूत्रों ने आगे कहा कि पीएमएल-एन पार्टी के अध्यक्ष के रूप में शाहबाज को औपचारिक रूप से पार्टी के भीतर एक मत से चुना जाएगा। इससे पहले एक बयान में शाहबाज ने कहा कि नवाज पर निराधार आरोप लगाने वालों को छोड़ा नहीं जाएगा। शाहबाज शरीफ ने टिप्पणी की ‘नियाजी झूठे कप्तान हैं,’। और तो और शाहबाज ने कहा कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ ने प्रांत में सबसे खराब प्रदर्शन दिखाया है। उन्होंने आगे कहा कि कोई भी समझदार व्यक्ति अगले चुनावों में नकारात्मक राजनीति करने वालों को वोट नहीं देगा।

22 फरवरी को सूत्रों ने कहा था की पंजाब हाउस में आयोजित उच्चस्तरीय पीएमएल-एन की बैठक में वरिष्ठ पार्टी के नेताओं ने शाहबाज को राष्ट्रपति बनाने की सिफारिश की क्योंकि वह एक गैर-विवादास्पद और प्रभावशाली व्यक्ति हैं। पाकिस्तान के सर्वोच्च न्यायालय ने चुनाव अधिनियम 2017 को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर अपने फैसले की घोषणा की थी, जिसमें कहा गया है कि अनुच्छेद 62 और 63 के तहत अयोग्य व्यक्ति राजनीतिक दल के प्रमुख के रूप में नहीं रह सकता है।

प्रधान न्यायाधीश साकिब निसार की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय पीठ का फैसला कि नवाज राजनीतिक दल का हिस्सा नहीं होंगे, इससे सत्तारूढ़ पीएमएल-एन को तगड़ा झटका लगा। इस बीच पीएमएल-एन के अध्यक्ष के रूप में नवाज शरीफ द्वारा उठाए गए सभी फैसले को निरर्थक और अमान्य की घोषित किया गया। ऐसे में नवाज शरीफ को सर्वोच्च न्यायालय द्वारा अयोग्य घोषित किए जाने के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री शाहबाज को पीएमएल-एन का अध्यक्ष चुना जाना अब लगभग तय है।
 

You may also like

आधार की वैधता पर सुप्रीम कोर्ट बुधवार को सुनाएगा फैसला

नई दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट बुधवार को आधार की वैधता पर