कंपनियों के तिमाही नतीजों, मुद्रास्फीति के आंकड़ों से तय होगी बाजार की चाल

- in कारोबार

नई दिल्ली। हिंदुस्तान यूनिलीवर एवं कोटक महिंद्रा बैंक जैसी बड़ी कंपनियों के तिमाही नतीजे, मुद्रास्फीति के आंकड़े, कच्चे तेल की कीमतों में उतार-चढ़ाव और वैश्विक रुख सप्ताह के दौरान शेयर बाजार की चाल तय करेंगे।

बाजार विशेषज्ञों ने यह अनुमान जताया। कंपनियों के तिमाही नतीजों पर ध्यान लगा रहेगा। वहीं, वैश्विक मोर्चे पर, बाजार अमेरिका और चीन के बीच जारी व्यापार गतिरोध के नरम पड़ने की उम्मीद कर रहा है। कोटक सिक्योरिटीज के उपाध्यक्ष (अनुसंधान) संजीव जरबादे ने कहा, कच्चे तेल की कीमतों में थोड़ा सुधार हुआ है और यदि कीमतों में और कुछ नरमी आती है तो यह वैश्विक बाजारों के लिए सकारात्मक होगा।

सैमको सिक्योरिटीज के संस्थापक एवं सीईओ जिमीत मोदी ने कहा, कंपनियों के तिमाही नतीजे जारी होने का सत्र अभी शुरू ही हुआ है। वर्तमान में, बाजार ने इंतजार का रुख अपनाया हुआ है। इस सप्ताह हिंदुस्तान यूनिलीवर, कोटक महिंद्रा बैंक, बजाज आटो और विप्रो के नतीजे आने हैं। इसके अलावा, सोमवार को इंफोसिस के शेयरों पर भी नजर रहेगी क्योंकि कंपनी का एकीकृत शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की जून तिमाही में 3.7 प्रतिशत बढ़कर 3,612 करोड़ रुपए हो गया। कंपनी का तिमाही परिणाम शुक्रवार को बाजार बंद होने के बाद आया। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के कैपिटल मार्केट स्ट्रैटजी एंड प्राइवेट क्लाइंट ग्रुप के प्रमुख वी के शर्मा ने कहा, वैश्विक आर्थिक आंकड़ों के मोर्चे पर, चीन इस सप्ताह अपनी दूसरी तिमाही के जीडीपी आंकड़ों की घोषणा करेगा। 

पिछले सप्ताह सेंसेक्स 883.77 अंक यानी 2.48 प्रतिशत की महत्वपूर्ण बढ़त के साथ 36,541.63 अंक पर बंद हुआ। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के अनुसंधान प्रमुख विनोद नायर ने कहा, कच्चे तेल की कीमतों में नरमी और बॉन्ड प्रतिफल बाजार की गति में स्थिरता के संकेत दे रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बड़ी खुशखबरी: अब इस कार्ड के जरिये यात्री कर सकेंगे बस, मेट्रो और ऑटो में सफर

जल्द ही देशवासियों को एक शहर से दूसरे