मंत्री के बेटे की करतूत पर पुलिस दे रही सिर्फ जांच का आश्वासन

राजनेताओं और उनके परिवारों की दबंगई की बात आते ही उत्तर प्रदेश का नाम जहन में आ जाता है। लेकिन अब ऐसे मामले राजस्थान में भी सामने आने लगे हैं। दरअसल ​एनसीआर में आने वाले अलवर में बुधवार को दिन-​दहाड़े राजस्थान सरकार में ​केबिनेट मंत्री के बेटे ने एक युवक का अपहरण कर लिया।

जानकारी के अनुसार सामा​न्य प्रशासन मंत्री हेमसिंह भडाना के पुत्र सुरेन्द्र सिंह ने अपने दोस्तों के साथ कॉलेज छात्र तेज​सिंह का अपहरण कर अपने घर में कैद कर लिया। इसके  बाद आरोपी सुरेन्द्र ने तेजसिंह के साथ जमकर मारपीट की। जब घटना की जानकारी तेजसिंह के परिवार को हुई तब उसके पिता व भाई मंत्री भडाना के अलवर शहर स्थित निवास पर पहुंचे। इसके बाद मंत्री के बेटे के साथ उनकी काफी बहसबाजी हुई।

काफी बहसबाजी के बाद उन्होंने तेजसिंह को आरोपी सुरेन्द्र की कैद से आजाद कराया। इसके बाद तेजसिंह को गंभीर हालत में अलवर के सामान्य चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। शिवाजी पार्क थाना प्रभारी विनोद सामरिया को जब घटना की जानकारी मिली तब वे अस्पताल पहुंचे। इस दौरान पीड़ित के पिता ने मामला पुलिस में मामला दर्ज कराया है।

वहीं पीड़ित तेजसिंह का कहना है​ कि वह मंत्री भडाना के घर के नजदीक ही किराए का कमरा लेकर पढ़ाई करता है। बुधवार दोपहर बाद अचानक मंत्री भडाना का बेटा सुरेन्द्र वह उसके दोस्त स्कॉर्पियों गाड़ी लेकर आए और उसके साथ मारपीट की। इसके बाद उसे जबरन उठा कर ले गए और अपने घर में एक कमरे में कैद कर दिया। हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि घटना के दौरान मंत्री हेमसिंह भडाना घर में मौजूद थे या नहीं।
गौरतलब है कि आरोपी सुरेन्द्र सिंह पर पूर्व में महिलाओं के साथ छेड़छाड़ के आरोप लग चुके है। कुछ वर्ष पूर्व आरोपी सुरेन्द्र ने अलवर शहर की अपनाघर शालीमार सोसाइटी में नशे में महिलाओं के साथ छेड़छाड़ की थी। जिसके बाद से सोसाइटी का एक परिवार तो वहां से जाने पर ही मजबूर हो गया था। उस दौरान मंत्री हेमसिंह भडाना राजस्थान के खाद्य व आपूर्ति मंत्री थे। इस घटना का शोर राजस्थान विधानसभा में भी सुनाई दिया था। लेकिन उस वक्त भी पिता के रसूख के चलते आरोपी पर पुलिस ने कोई खास कार्रवाई नहीं की थी।

 

Facebook Comments

You may also like

अनोखी शादी: 83 का दूल्हा 30 की दुल्हन, दो बेटियां जमकर नाची, 12 गांवों को दावत

इन दिनों पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर और पाकिस्तान