गुजारा भत्ता दिलाने के बहाने वकील ने पांच साल तक किया दुष्कर्म

- in अपराध

पति से अनबन के बाद तलाक लेने पहुंची महिला के साथ उसके वकील द्वारा पांच साल तक दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है. समाज में बदनामी का डर और गुजारा भत्ता मिलने के लालच ने उसी अभी तक तो शांत रखा, लेकिन जब महिला गर्भवती हो गई और उसने वकील से शादी करने की बात कही तो वकील मुकर गया. साथ ही महिला को फर्जी मुक़दमे में फ़साने की धमकी भी. बताया जा रहा है कि महिला वकील की शिकायत लेकर थाने भी गई लेकिन वकील का रुतबा देख पुलिस वालों ने पीड़िता को भगा दिया. एसपी अमित वर्मा की फटकार के बाद कोतवाली देहात पुलिस ने वकील के खिलाफ रेप का मामला दर्ज कर लिया है.  

झारखंड: पांच लड़कियों के साथ दिन-दहाड़े सामूहिक बलात्कार

जानकारी के मुताबिक, पारिवारिक विवादों के चलते पति-पत्नी के बीच काफी अनबन होने लगी थी जिस वजह से पति ने महिला का साथ छोड़ दिया था. इसके बाद महिला ने गुजारा भत्ता के लिए दीवानी न्यायालय में परिवाद दायर किया. इसी दौरान अरविन्द कुमार नाम के वकील ने महिला को अपने जाल में फंसा, उसे मुकदमा जिताने और गुजारा भत्ता दिलवाने का झांसा दिया. वकील अरविन्द कुमार ने इस दौरान पांच साल तक बलात्कार किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बेटी के पति पर आया सास का दिल, फिर उसके बच्चे की मां बनने के लिए कर डाला ये सब…

मप्र में जनसुनवाई के दौरान रिश्तों को कलंकित