ओम प्रकाश राजभर शराबबंदी पर बोले ‘मेरी लड़ाई सीएम से है, अमित शाह कराएंगे फैसला’

अपने ही गठबंधन वाली उत्तर प्रदेश सरकार के खिलाफ समय-समय पर बयानबाजी करने वाले सूबे के काबीना मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ जंग का ऐलान करते हुए कहा कि इस लड़ाई का फैसला बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह करेंगे. पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री राजभर ने बुधवार (02 मई) की रात रसड़ा क्षेत्र में पार्टी कार्यकर्ताओं की एक बैठक को सम्बोधित करते हुए एक बार फिर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा. बीजेपी की सहयोगी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के अध्यक्ष राजभर ने रामायण के एक कांड का हवाला देते हुए खुद की तुलना लव और कुश से की. ओम प्रकाश राजभर शराबबंदी पर बोले 'मेरी लड़ाई सीएम से है, अमित शाह कराएंगे फैसला'

सीएम योगी पर साधा निशाना
सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के अध्यक्ष ने रामायण का हवाला देते हुए कहा कि लव और कुश की लड़ाई राम, लक्ष्मण, भरत और शत्रुघ्न से सिद्धांत को लेकर हुई थी. महर्षि वाल्मीकि ने हस्तक्षेप कर उनके बीच युद्ध को रोका था. हमारी लड़ाई मुख्यमंत्री से है. उन्होंने कहा कि उन दोनों के बीच की लड़ाई में अमित शाह फैसला कराएंगे. 

बयान पर दी सफाई
अपने इस बयान के कुछ देर बाद ही ओम प्रकाश राजभर ने संवाददाताओं से बातचीत में अपने बयान पर सफाई भी दी. उन्होंने कहा कि वो सरकार को जनता की भावनाओं को लेकर आईना दिखा रहे हैं. साथ ही कहा कि वो सरकार के खिलाफ नहीं बोल रहे हैं. 

20 मई से शुरू करेंगे शराबबंदी आंदोलन
सूबे में शराबबंदी की मांग कर रहे कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर 20 मई से बलिया से आंदोलन की शुरुआत कर रहे हैं. कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने कहा जो भी पार्टी आंदोलन में साथ नहीं देगी, वो 2019 में उस पार्टी का महिलाओं से बहिष्कार कराएंगे. वहीं ये पूछे जाने पर क्या बीजेपी इस मुद्दे पर साथ देगी. इसपर उन्होंने दावा किया कि बीजेपी इस मुद्दे पर उनका साथ न सिर्फ साथ देगी बल्कि यूपी में शराबबंदी होकर रहेगी. 

बदमाशों ने लूटपाट के बाद चलती ट्रेन से माँ-बेटे को दिया धक्का

बलात्कार के लिए प्रशाशन जिम्मेदार
राजभर ने प्रदेश में हो रहे बलात्कार के लिए पुलिस और जिला प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा कि अभी कुछ अधिकारी और कर्मचारी ऐसे हैं जो ठीक से काम नहीं कर रहे हैं. अगर वे अपना काम ठीक से करने लगे तो बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर द्वारा बनाए संविधान में जो व्यवस्था है उससे सब कुछ ठीक हो सकता है.

पहले भी दे चुके हैं योगी विरोधी बयान
आपको बता दें कि राजभर पहले भी मुख्यमंत्री योगी पर निशाना साधते रहे हैं. उन्होंने पिछले दिनों एक बयान में योगी को मुख्यमंत्री बनाने के निर्णय पर सवाल खड़ा करते हुए कहा था कि बीजेपी नेतृत्व ने तत्कालीन सांसद योगी को मुख्यमंत्री बनाकर 325 विधायकों की उपेक्षा की है. 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तराखंड में सियासी घमासान के बीच CM बहुगुणा पहुँचे शहजाद के घर

रुड़की: पिछले दिनों से मचे सियासी घमासान के