अब बिना ‘कंडोम’ के इस तरीके को अपनाकर बनाये संबंध, नहीं होगा प्रेग्नेंसी का खतरा

- in जीवनशैली

कभी-कभी इंसान भावनाओं में बहकर कुछ गलतियां कर जाता है। बाद में इस बात के लिए उसे पछताना भी पड़ता है। इस स्थिति में फिर कोई दूसरा समझदार इंसान आता है और उसे ही नसीहत देकर चला जाता है कि “अब पछताए होत का जब चिड़िया चुग गई खेत।” 

ऐसा ही मामला सेक्स में भी होता है। कपल्स अक्सर भावनाओं पर नियंत्रण नहीं रख पाते हैं। बिना किसी सुरक्षा के संबंध बना लेते हैं। ऐसे में यदि प्रेग्नेंसी की नौबत आ जाए तो फिर परेशान होते हैं क्योंकि वो पेरेन्ट्स बनने के लिए तैयार नहीं होते हैं। 

आज हम आपके लिए ऐसी ही कुछ टिप्स लेकर आए हैं जो आपको इस तरह की समस्याओं से बचाएंगी। जी हां। आपको जानकर हैरानी होगी कि कंडोम का इस्तेमाल किए बिना भी प्रेग्नेंसी को रोका जा सकता है। ज्यादा सोचिए मत। पढ़िए यह स्टोरी।

बर्थ कंट्रोल पैच

यह एक सिंपल पैच होता है, जिसे महिलाएं अपने शरीर पर चिपका सकती हैं। यह Estrogenऔर Progestin हार्मोन्स को रिलीज कर प्रेग्नेंसी को रोकता है।

सक्सेस रेट भी है जबरदस्त

 
सक्सेस रेट भी है जबरदस्त

सही तरह से इस्तेमाल करने पर इसकी सक्सेस रेट 99% तक पाई गई है। मगर इसे इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। 

Birth control implant

 
Birth control implant

यह एक माचिस की तिली के बराबर रॉड होती है, जिसे शरीर में इम्प्लांट किया जाता है। यह हार्मोन्स को रिलीज कर प्रेग्नेंसी को रोकती है।

4 साल तक कर सकेंगे इस्तेमाल

 

4 साल तक कर सकेंगे इस्तेमाल

Birth control implant 4 साल तक काम कर सकती है। मगर इसे एक्सपर्ट के गाइडेंस के साथ ही इस्तेमाल करना चाहिए। 

Spermicides

 यह भी एक तरह का गर्भनिरोधक होता है, जो स्पर्म्स को अंडाणुओं तक पहुँचने से रोकता है। इसे सेक्स से पहले इस्तेमाल किया जाता है। मगर इसे इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेना बहुत जरूरी होता है।

शहद को त्वचा पर इस तरह लगाने से चेहरा कुछ ही दिनों में चाँद सा चमकने लगेगा

सुरक्षित हफ्ता

 
सुरक्षित हफ्ता

महिलाओं के पीरियड के पहले दिन के बाद से 8वें दिन से लेकर 20वें दिन तक का समय सेक्स के लिए सुरक्षित हफ्ता माना जाता है। इस हफ्ते का भी आप फायदा उठा सकते हैं। 

 
 

 

You may also like

खाली पेट भूलकर भी न खाएं यह 8 चीजें, वरना खुद पढ़ ले…

हमारा दिन कैसा रहेगा रहता है? हमारी शारीरिक