अब 50 और 200 रुपए के नोटों पर आई मुसीबत, बैंक जाने से पहले जरूर पढ़ें ये खबर

नोटबंदी के बाद जारी 50 और 200 रुपए के नोट को लेकर नई परेशानी सामने आई है। इसलिए बैंक जाने से पहले जरूर पढ़ें। हो सकता है कि जल्द ये दोनों नोट बंद हो जाएं। जिस तरह के हालात बन रहे हैं उससे तो ऐसा ही नजर आ रहा है।

 

दरअसल, कोटद्वार के अधिवक्ता अमृतांशु बड़थ्वाल और रोहित डंडरियाल ने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा जारी किए गए 50 रुपये के नए नोट पर दृष्टिहीन लोगों के लिए कोई भी पहचान चिह्न (ब्रेल लिपि) नहीं बनाए जाने का मामला उठाया है। उन्होंने उच्च न्यायालय दिल्ली में इसकी रिट याचिका दायर की है। कोर्ट ने आरबीआई से जवाब तलब करते हुए कोर्ट में पेश होकर पक्ष रखने के आदेश दिए हैं। अधिवक्ता अमृतांशु और रोहित ने अमर उजाला को बताया कि आरबीआई की ओर से जारी किए 50 के नए नोट में दृष्टिहीन लोगों के लिए कोई पहचान निशान नहीं बने हैं।

 

 

इससे दृष्टिहीनों को उनकी पहचान करने में दिक्कतें आ रही हैं, जबकि पुराने 50 रुपये के नोटों में दृष्टिहीन लोगों के लिए नोट पहचानने के लिए ब्रेल लिपि में लिखा होता था। अधिवक्ताओं ने कहा कि इस मामले में उन्होंने तीन नवंबर 2017 को दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी।

विधानसभा चुनाव: जयराम रमेश बोले- लेफ्ट का खात्मा देश को बर्बाद कर देगा

 

उसी दिन कोर्ट ने रिजर्व बैंक के अधिवक्ताओं को बुलाया। रिजर्व बैंक ने इस पर समय मांगा था। 31 जनवरी 2018 को दिल्ली उच्च न्यायालय की डबल बेंच ने मामले को गंभीर बताते हुए रिजर्व बैंक और केंद्र सरकार को 16 फरवरी को कोर्ट के समक्ष पेश होने के आदेश दिए हैं। बताया कि 16 फरवरी को रिजर्व बैंक का पक्ष सुनने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

 

You may also like

बड़ी खबर: पीएम मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट बुलेट ट्रेन पर लगा ब्रेक, अब प्रोजेक्ट पर आगे बढ़ने से पहले..

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बुलेट ट्रेन ड्रीम प्रोजेक्ट को बड़ा