इन सात राज्यों के बाद अब राजस्थान में भी ई-सिगरेट पर बैन लगाने की तैयारी

- in राजस्थान

जयपुर। राजस्थान में अब ई-सिगरेट पर बैन लगाने की तैयारी की जा रही है। इससे पहले पंजाब, महाराष्ट्र, बिहार, केरल, कर्नाटक, मिजोरम और उत्तर प्रदेश में ई-सिगरेट पर रोक लगाई जा चुकी है।इन सात राज्यों के बाद अब राजस्थान में भी ई-सिगरेट पर बैन लगाने की तैयारी

ई-सिगरेट के बढ़ते प्रचलन को देखते हुए राज्य सरकार ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव वीनू गुप्ता को इस बारे में आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। सरकार के निर्देश पर वीनू गुप्ता ने पांच चिकित्सकों की एक टीम बनाई है।

यह टीम ई-सिगरेट से स्वास्थ्य पर पड़ रहे प्रतिकूल प्रभावों पर विशेषज्ञों से बातचीत कर 15 जून को रिपोर्ट देगी। इसके बाद प्रदेश में ई-सिगरेट पर रोक लगाने का निर्णय किया जाएगा। सरकार ने ई-सिगरेट का कारोबार करने वालों पर अभी से निगरानी रखना शुरू कर दिया है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ ने बताया कि अब तक देश के सात राज्यों में ई-सिगरेट पर रोक लगाई जा चुकी है।

यह है ई-सिगरेट

ई-सिगरेट एक ऐसा यंत्र है, जो देखने में साधारण सिगरेट जैसा लगता है। इसमें एक बैट्री और एक कारट्रिज होती है। कारट्रिज में निकोटीन युक्त तरल पदार्थ होता है, जो बैट्री की सहायता से गर्म होकर निकोटिन युक्त भाप देता है। इसे सिगरेट के धुंए की तरह लोग पीते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

समान विचार-समान विकास ही प्रदेश की तरक्की का आधार: सीएम राजे

जयपुर। राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने समान विचार-समान