यूएस ओपन: नडाल का सेमीफाइनल में मुकाबला डेल पोत्रो से

- in खेल

गत चैंपियन राफेल नडाल ने उतार-चढ़ाव भरे रोमांचक क्वार्टर फाइनल में नौवीं वरीय डोमिनिक थिएम को पांच सेट में हराकर सातवीं बार यूएस ओपन पुरुष सिंगल्स के सेमीफाइनल में जगह बनाई, जहां उनका सामना जुआन मार्टिन डेल पोत्रो से होगा।

विश्व के नंबर एक खिलाड़ी नडाल ने चार घंटे और 49 मिनट में 0-6, 6-4, 7-5, 6-7, 7-6 से जीत दर्ज की। नडाल को अब न्यूयॉर्क में चौथे और करियर के 18वें ग्रैंड स्लैम खिताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा है। नडाल ने पहले सेट में अपनी तीनों सर्विस गंवाई, जबकि तीसरे और चौथे सेट में भी उन्होंने सर्विस गंवाने के बाद वापसी की। नडाल ने टूर्नामेंट का अपना सबसे लंबा मैच खेला। थिएम ने मैच में 18 ऐस और 74 विनर लगाए, लेकिन उन्हें 58 सहज गलतियों का खामियाजा भुगतना पड़ा।

डेल पोत्रो ने अन्य क्वार्टर फाइनल में जॉन इस्नर को हराकर तीसरी बार इस ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बनाई। इस्नर की हार के साथ 2003 से यहां पहला पुरुष सिंगल्स चैंपियन खिलाड़ी देने का मेजबान देश का सपना टूट गया। 2009 के चैंपियन अर्जेंटीना के डेल पोत्रो ने स्थानीय खिलाड़ी के खिलाफ पहला सेट गंवा दिया था, लेकिन इसके बाद उन्होंने जोरदार वापसी करते हुए 6-7, 6-3, 7-6, 6-2 से जीत दर्ज की। अपने घरेलू ग्रैंड स्लैम में पहली बार क्वार्टर फाइनल खेल रहे 11वीं वरीय इस्नर ने पहला सेट जीत लिया, लेकिन डेल पोत्रो ने तीन घंटे और 31 मिनट चले मैच के दौरान एक बार भी अपनी सर्विस नहीं गंवाई। इस्नर ने इस मैच में 26 ऐस लगाए, लेकिन उन्हें 52 सहज गलतियों का खामियाजा भुगतना पड़ा, जबकि डेल पोत्रो ने सिर्फ 14 सहज गलतियां कीं। पोत्रो ने इस्नर पर 12 मैचों में आठवीं जीत दर्ज की। डेल पोत्रो ने स्वीकार किया कि 33 डिग्री तापमान खिलाड़ियों के लिए असली चुनौती साबित हो रहा है। तीसरे सेट के बाद हालांकि 10 मिनट के गर्मी के ब्रेक ने राहत पहुंचाई थी।

सेरेना अंतिम चार में पहुंचीं

छह बार की चैंपियन सेरेना विलियम्स ने धीमी शुरुआत से उबरते हुए आठवीं वरीय कैरोलिन प्लिसकोवा को सीधे सेटों में 6-4, 6-3 से हराकर यूएस ओपन के महिला सिंगल्स के सेमीफाइनल में जगह बनाई। रिकॉर्ड 24वें ग्रैंड स्लैम के लिए चुनौती पेश कर रही अमेरिकी की सेरेना ने शुरुआत में ही अपनी सर्विस गंवा दी थी लेकिन इसके बाद उन्होंने लगातार आठ गेम जीतकर पहला सेट अपने नाम किया और दूसरे में भी 4-0 की बढ़त बनाई। सेरेना को इसके बाद उस खिलाड़ी को हराने में अधिक परेशानी नहीं हुई जिसने 2016 में यहां उन्हें हराया था।

सेरेना ने पहले सेट में 1-3 से पिछड़ने के संदर्भ में कहा, ‘मैं सिर्फ बेहतर खेल खेलना चाहती थी। मैं सोच रही थी कि मैं इससे बेहतर खेल सकती हूं।’ प्लिसकोवा को 12 ब्रेक अंक मिले, लेकिन इसमें से वह सिर्फ दो का ही फायदा उठा सकीं। सेरेना ने 13 ऐस लगाए। सेमीफाइनल में सेरेना का सामना अनास्तसिजा सेवास्तोवा से होगा। महिला सिंगल्स के अन्य क्वार्टर फाइनल में स्पेन की कार्ला सुआरेज नवारो की भिड़ंत 2017 की उप विजेता मेडिसन कीज से होगी, जबकि जापान की नाओमी ओसाका को यूक्रेन की लेसिया सुरेनको से भिड़ना है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पाकिस्तान की हार के बाद सरफराज बोले- सिर्फ दो स्पिनरों के लिए की थी तैयारी

नई दिल्लीः एशिया कप के 5वें मुकाबले में भारतीय