खुलासा: लॉर्ड्स में इंग्लैंड और भारत के 11 नहीं बल्कि 10 खिलाड़ियों ने ही खेला टेस्ट मैच, जाने क्यों?

- in खेल

भारत ने लॉर्ड्स टेस्ट में जैसा प्रदर्शन किया है। उसके बाद से उसकी हर तरफ आलोचना हो रही है। टीम इंडिया के इस प्रदर्शन के लिए विराट और टीम के खिलाड़ियों की आलोचना के साथ कोच रवि शास्त्री को भी ट्रोल किया जा रहा है। इस मैच में भारतीय टीम को पारी और 159 रन से हार का सामना करना पड़ा। टीम इंडिया ने पहली पारी में 107 रन और दूसरी पारी में 130 रन बनाए और ऑल आउट हो गई। वहीं दूसरी ओर इंग्लैंड ने पहली पारी में 396 रन बनाकर पारी घोषित कर दी।

ये मैच इंग्लैंड ने आसानी से जीत लिया, लेकिन इस मैच में इंग्लैंड और भारत की ओर से सिर्फ 10 ही खिलाड़ी खेल रहे थे। जबकि इस बात पर अभी तक किसी का ध्यान नहीं गया। वैसे तो इंग्लैंड की प्लेइंग इलेवन में 11 खिलाड़ी थे, लेकिन एक खिलाड़ी ऐसा था जिसने न तो गेंदबाजी की और न ही बल्लेबाजी। इसके साथ ही उसने किसी खिलाड़ी को रन आउट या कैच भी नहीं किया। हम बात कर रहे हैं आदिल रशीद की। रशीद मैच के दौरान मैदान पर तो थे, लेकिन उन्होंने किसी भी तरह से टीम की जीत में भूमिका नहीं निभाई, वो सिर्फ फील्डिंग करते दिखे।

पहली बार एशियन गेम्स में शामिल किये गये ये अनोखे खेल

रशीद इंग्लैंड के पहले और विश्व के 14 वें ऐसे खिलाड़ी बन गए हैं, जिन्होंने किसी भी तरह मैच में भूमिका नहीं निभाई। वहीं भारत की ओर से इस मैच में उमेश यादव की जगह  कुलदीप यादव को खिलाया गया था। लेकिन इस मैच में मौसम तेज गेंदबाजों के अनुकूल था। लेकिन इस मैच में टीम इंडिया को स्पिन गेंदबाजों के साथ उतरी थी। इस मैच में कुलदीप यादव का योगदान भी न के बराबर रहा। वो इस मैच में कोई खास असर नहीं छोड़ पाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

लखनऊ की निशा ने जीता महिला 5000 मीटर दौड़ का स्वर्ण

52वीं यूपी स्टेट जूनियर ( अंडर-20 पुरूष व