Home > अन्तर्राष्ट्रीय > भारत का पाक पर हमला, अंतराष्ट्रीय समुदाय के प्रयासों के बावजूद आतंक को समर्थन जारी’

भारत का पाक पर हमला, अंतराष्ट्रीय समुदाय के प्रयासों के बावजूद आतंक को समर्थन जारी’

आतंक को समर्थन दे रहे पाकिस्‍तान की आलोचना दुनिया का हर देश कर रहा है। भारत भी इस मौके से चूकता नहीं दिखाई देता। अब संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद में भारत ने पाकिस्‍तान की जमकर खिंचाई की। भारत ने कहा कि सुरक्षित पनाहगाहों से आने वाला सीमा पार का आतंकवाद अफगानिस्‍तान व अन्‍य देशों के लिए खतरा है जिसे जल्‍द से जल्‍द खत्‍म कर देना चाहिए।

भारत का पाक पर हमला, अंतराष्ट्रीय समुदाय के प्रयासों के बावजूद आतंक को समर्थन जारी'

यूएनएससी मीटिंग में बोलते हुए यूएन में भारत के स्‍थायी प्रतिनिधि में सैयद अकबरुद्दीन ने कहा, ‘तालिबान, हक्‍कानी नेटवर्क, आइएसआइएस (इस्‍लामिक स्‍टेट), लश्‍कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्‍मद जैसे आतंकी संगठनों को समर्थन और पनाह देने वाले अब भी मौजूद हैं।‘ अकबरुद्दीन ने कहा कि आतंकवाद, चरमपंथ, ड्रग तस्‍करी व अफगानिस्‍तान के प्राकृतिक स्रोतों का अवैध शोषण पर यूएनएससी के फोकस का भारत समर्थन और स्‍वागत करता है। उन्‍होंने क्राइम, ड्रग्‍स और आतंकवाद के व्‍यापक नेटवर्क से सख्‍ती से निबटने पर जोर दिया।

हिंसा को खत्‍म करने के लिए तालिबान के साथ नये शांति योजना की शुरुआत के अफगानिस्‍तान के निर्णय की प्रशंसा करते हुए अकबरुद्दीन ने कहा, ‘अफगान सरकार ने शांति के लिए नई पहल की और मुख्‍यधारा से जुड़ने के लिए तालिबान के समक्ष ठोस दृष्‍टिकोण का प्रस्‍ताव दिया।‘

आखिरकार परमाणु धमकियों के बीच किम जोंग उन से मिलने को तैयार ट्रंप, मई में करेंगे मुलाकात

न्‍यूयार्क में संयुक्‍त राष्‍ट्र मानवाधिकार परिषद में भारत ने पाकिस्‍तान द्वारा मानवाधिकार उल्‍लंघन का विशेष तौर से उल्‍लंघन किया। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की स्थायी सदस्यता के लिए कई देश समर्थन कर रहे हैं। यह प्रतिक्रिया पाकिस्‍तान द्वारा जम्‍मू कश्‍मीर में मानवाधिकार उल्‍लंघन मामले को उठाए जाने के बाद आयी।

Loading...

Check Also

गे संबंध पर उपन्यास लिखने पर चीन के एक शख्स को मिली 10 साल की सजा

गे संबंध पर उपन्यास लिखने पर चीन के एक शख्स को मिली 10 साल की सजा

लिउ नाम की लेखिका को अन्हुई प्रांत की एक अदालत ने पिछले महीने ‘अश्लील सामग्री’ …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com