अगर आप गर्मियों की छुट्टी में कहीं जाने का प्लान कर रहे हैं, तो टिकट पहले से ही करवा लें. मई के पहले 15 दिन में हवाई किरायों में 17 फीसदी की बढ़ोतरी हो गई है. ईटी ने यात्रा डॉट कॉम पर हवाई किरायो का विश्लेषण किया है, इसमें ये बात सामने आई है. हवाई किरायों के बढ़ने के कारण एयरलाइंस की मांग पर असर पड़ा है.

यात्रा डॉट कॉम के सीओओ शरत ढाल ने कहा कि ‘मई की शुरुआत से महत्वपूर्ण रूट्स पर किराए बढ़ने शुरू हो गए हैं. अप्रैल 2018 के मुकाबले मई में ये 15 फीसदी बढ़े हैं. वहीं पिछले साल मई के मुकाबले 10 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. आखिरी समय में इनमें ज्यादा बढ़ोतरी हो रही है. इसके पीछे एटीएफ के दाम 6.3 फीसदी बढ़ना भी कारण है. साथ ही गर्मी की छुट्टी के कारण मांग भी बढ़ गई है. इंडियन ऑयल की वेबसाइट के मुताबिक दिल्ली में मई में ATF के दाम 26.4 फीसदी बढ़कर 65,340 रुपए किलोलीटर हो गए. अप्रैल के मुकाबले दाम में 6.3 फीसदी बढ़ोतरी हुई.

4 रुपये लीटर बढ़ सकते हैं पेट्रोल, डीजल के दाम: रिपोर्ट

भारत में जेट फ्यूल एयरलाइंस की लागत का 50 फीसदी होता है. किराए में बढ़ोतरी से मांग पर असर पड़ेगा. कापा के दक्षिण एशिया के सीईओ कपिल कौल के मुताबिक जून अंत तक किरायों में हल्की बढ़ोतरी होगी, हालांकि यात्रा के नजदीक के दिन टिकट बुक करने पर ज्यादा किराया देना होगा. यात्रा डॉट कॉम के मुताबिक मई 2017 में दिल्ली से मुंबई का किराया 4,432 रुपए था. मई 2018 में ये किराया 17 फीसदी बढ़कर 5,177 रुपए हो गया.