31 मई 2018 दिन बृहस्पतिवार का राशिफल और पंचांग: जानें महीने का आखिरी दिन आपके लिए कैसा रहेगा

।। आज का पञ्चाङ्ग ।।

राष्ट्रीय मिति ज्येष्ठ 10 शक संवत् 1940, ज्येष्ठ कृष्ण द्वितीया बृहस्पतिवार, विक्रम संवत् 2075। सौर ज्येष्ठ मास प्रविष्टे 18, रमजान 15, हिजरी 1439 (मुस्लिम) तदनुसार अंग्रेजी तारीख 31 मई सन् 2018 ई॰। उत्तरायण, उत्तर गोल, ग्रीष्म ऋतु।

राहुकाल अपराह्न 1 बजकर 30 मिनट से 3 बजे तक। द्वितीया तिथि रात्रि 11 बजकर 25 मिनट तक उपरांत तृतीया तिथि का आरंभ, मूल नक्षत्र सूर्योदय से अगले दिन प्रातः 5 बजकर 53 मिनट तक उपरांत पूर्वाषा-सजय नक्षत्र का आरंभ, साध्य योग सायं 6 बजकर 2 मिनट तक उपरांत शुभ योग का आरंभ, तैतिल करण पूर्वाह्न 10 बजकर 25 मिनट तक उपरांत वणिज करण का आरंभ।

चंद्रमा दिन रात धनु राशि पर संचार करेगा। आज ही बुध रोहिणी नक्षत्र में अर्धरात्रोत्तर 3 बजकर 54 मिनट, शुक्र पुनर्वसु नक्षत्र में अपराह्न 3 बजकर 8 मिनट, गण्डमूल विचार।31 मई 2018 दिन बृहस्पतिवार का राशिफल और पंचांग: जानें महीने का आखिरी दिन आपके लिए कैसा रहेगा

मेष:

आज आप थकान, आलस्य और व्यग्रता का अनुभव कर सकते हैं। क्रोध पर नियंत्रण रखें अन्यथा काम बिगड़ सकते हैं। नौकरी, व्यापार के स्थान या घर में किसी को दुःख न पहुंचे इसका ध्यान रखें। किसी धार्मिक या मांगलिक कार्य में जाना हो सकता है।

वृषभ:

आज आप शारीरिक तथा मानसिकरूप से अस्वस्थता का अनुभव कर सकते हैं। किसी नए कार्य का प्रारंभ न करने की सलाह भी गणेशजी देते हैं। खान-पान में सतर्कता बरतें, स्वास्थ्य का ध्यान रखें। संभव हो तो प्रवास टाल दें। निश्चित समय में कार्य पूर्ण करने में परेशानी आ सकती है। ध्यान लगाने से मानसिक शांति मिलेगी।

मिथुन:

गणेशजी कहते हैं कि आज आप मनोरंजन तथा आनंद में व्यस्त रहेंगे। मित्रों तथा परिजनों के साथ आनंदित वातावरण में दिन बिता पाएंगे। सामाजिक रूप से सम्मान और प्रसिद्धि भी प्राप्त कर सकेंगे। दांपत्यजीवन में सुख मिलेगा।

कर्क:

गणेशजी के आशीर्वाद से आज का दिन आपके लिए सफलता प्रदान करनेवाला होगा। परिजनों के साथ समय सुखपूर्वक बीतेगा। आवश्यक कार्य में खर्च हो सकता है। फिर भी आर्थिक लाभ के लिए अच्छा दिन है। नौकरी करनेवालों के लिए कार्यालय में आज वातावरण अनुकूल रहेगा।

सिंह:

गणेशजी कहते हैं कि आज के दिन आपका शारीरिक तथा मानसिक स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। सृजनात्मक कार्य सुंदररूप से संपन्न होगा। संतान की और से शुभ समाचार मिलेंगे। मित्रों के साथ भेट आनंददायी होगी। धार्मिक परोपकार का कार्य आप करेंगे।

कन्या:

आज के दिन कुछ परेशानियों से भरा हो सकता है। कई बातों को लेकर आपको चिंता हो सकती है, जिससे आप शारीरिक तथा मानसिक रूप से अस्वस्थता का अनुभव करेंगे। परिवार के सदस्यों के साथ अनबन हो सकती है। माता के स्वास्थ्य को लेकर सावधानी बरतें। किसी भी दस्तावेज पर हस्ताक्षर करते समय सावधानी बरतें। धन का खर्च के योग हैं।

तुला:

आज के दिन भाग्यवृद्धि होनेवाली है, ऐसा गणेशजी कहते हैं। भाई-बहनों के साथ संबंधों में सुधार होगा। किसी धार्मिक प्रवास का आयोजन हो सकता है। नए कार्य के प्रारंभ के लिए दिन शुभ है। शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। विदेश से शुभ समाचार मिलेंगे। हितशत्रुओं पर विजय प्राप्त हो सकती है। सम्मान प्राप्त होगा।

वृश्चिक:

आज का दिन आपके लिए मध्यम फलदायी है। अनावश्यक खर्च पर अंकुश रखें। वाणी पर संयम रखने से परिवार में सुख-शांति बना पाएंगे। विचारों पर नकारात्मकता हावी न होने दें। धार्मिक कार्यों में व्यय हो सकता है। विद्यार्थियों को अधिक मेहनत करनी होगी।

धनु:

गणेशजी कहते हैं कि आज निर्धारित किए हुए कार्य पूर्ण होंगे। लक्ष्मीजीकी कृपा रहेगी। शारीरिक तथा मानसिक स्वास्थ्य आपको प्रसन्न रखेगा। किसी यात्रा स्थल पर प्रवास होने की संभावना है। स्वजनो के मिलने से मन आनंदित रहेगा। यश-कीर्तिमें वृद्धि होगी। शुभ प्रसंग में शामिल होने का निमंत्रण मिलेगा।

मकर:

गणेशजी कहते हैं कि आज मन अस्वस्थ हो सकता है। धार्मिक, सामाजिक कार्यों में धन का खर्च के योग हैं। प्रियजनों से अनबन के योग हैं, मन शांत रखें। धन और मान को लेकर सतर्क रहें। आध्यात्मिकता की ओर रुझान अधिक रहेगा। कोर्ट-कचहरी के कार्य में दिक्कत आ सकती है। वाणी पर संयम रखिएगा।

कुंभ:

गणेशजी कहते हैं कि इस समय मिलनेवाले लाभों से आपका आनंद दोगुना हो जाएगा। नए कार्य का प्रारंभ शुभ सिद्ध होगा। व्यापारियों को व्यापार में विशेष लाभ होगा। सामाजिक क्षेत्र में कीर्ति मिलेगी। संतान के साथ मेल-जोल अच्छा रहेगा। आय बढे़गी। प्रवास का आयोजन होगा।

मीन:

आपका आज का दिन शुभ फलदायी है, ऐसा गणेशजी कहते हैं। नौकरी या व्यापार में आपको सफलता मिलेगी तथा वरिष्ठ अधिकारी आप पर प्रसन्न रहेंगे। इस बात से आपकी प्रसन्नता में भी वृद्धि होगी। व्यापार में उगाही के पैसे मिल सकते हैं। बडे़ भाई एवं पिता की ओर से लाभ होगा। पारिवारिक आनंद से आप आनंदित रहेंगे।

।। इति शुभम् ।।
।।आचार्य स्वमी विवेकानन्द।।
।।ज्योतिर्विद व संगीत मय श्री रामकथा व श्रीमद्भागवत कथा व्यास।।
।।श्री अयोध्या धाम।।
संपर्क सूत्र-9044741252

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

ऐसे भारत से भागा था विजय माल्या: CBI ने किया खुलासा..

  सूत्रों ने कहा कि पहले सर्कुलर में