10 जनवरी दिन बुधवार का राशिफल: जानिए आज किन-किन वालो पर होने वाली है प्रभु की कृपा

।।आज का पञ्चाङ्ग।।

आज का दिन मंगलमय हो 10 जनवरी दिन बुधवार

10 जनवरी दिन बुधवार का राशिफल: जानिए आज किन-किन वालो पर होने वाली है प्रभु की कृपाऋतु- शिशिर
माह- माघ
सूर्य-दक्षिणायन
सूर्योदय-06:44
सूर्यास्त-05:16
राहूकाल(अशुभ समय) दोपहर 12:00से 01:30 बजेतक।
पक्ष-कृष्ण
तिथि-नवमी
दिशाशूल- उत्तर व पश्चिम
शुभदिशा-दक्षिण व पूर्व
यात्रायोग्यअमृतमुहूर्त -प्रातः 08:33 से 09:52 तक

।।आज का राशिफल।।

मेष:- व्यावसायियों के लिए आज का दिन मध्यम लाभकारी है। परिवार का आनंददायी वातावरण भी आपके मन को प्रफुल्लित रखने में सहायक रहेगा। घर में सुखदायी घटना घटेगी।यात्रा के सुखद योग बनेंगे।
सुझाव:-आज आप गणपति अथर्वस्त्रोत का पाठ करें।
राशिरत्न:-मूँगा
शुभरंग:-जामुनी

वृष:-  आज आपको स्थाई रोजगार मिलने के योग बन सकते हैं।पेट सम्बंधित रोग से भी मन चिंतित रहेगा परंतु मध्याह्न के बाद रोग में आपको राहत का अनुभव होगा। मानसिक रूप से आप तंग स्थिति से राहत की स्थिति का अनुभव करेंगे। आपके कार्य की प्रशंसा होगी। स्वजनों से सहयोग मिलेगा।
सुझाव:-आज आप विष्णु सहस्रनाम का पाठ करें।
राशिरत्न:-हीरा, ओपल
शुभरंग:-गुलाबी

मिथुन:-आज आपका व्यापार सुखानुभूति दे सकता है। पारिवारिक सदस्यों के बीच में तूतू-मैंमैं होने की संभावना बन सकती है। स्थायी संपत्ति के मामले में सावधानी से काम करें। आकस्मिक धन के खर्च की संभावना रहेगी।यात्रा से बचें।
सुझाव:-आज आप खड़ाऊं का दान शिव मंदिर में करें।
राशिरत्न:-पन्ना
शुभरंग:-गेरुवा

कर्क:-आज आपको शैक्षिक सफलता मिल सकती है। प्रतिस्पर्धीयों का आज आपके सामने मनोबल न्यून रहेगा। मध्याह्न के बाद कुछ प्रतिकूलता आ सकती है।यात्रा मनोनुकूल रहेगी। स्थाई रोजगार का मार्ग खुलेगा।
सुझाव:-आज आप गूगुल का धूप माता महालक्ष्मी को अर्पित करें।
राशिरत्न:-मोती
शुभरंग:-पर्पल

सिंह:-पारिवारिक सदस्यों के साथ अच्छा समय बीतेगा। आर्थिक लाभ होने की भी संभावना बन रही है। परंतु मध्याह्न के बाद आप वाहन संभलकर चलावें। भाईयों से लाभ होगा आध्यात्मिक क्षेत्र में मन लगेगा। यात्रा से स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है।
सुझाव:-आज आप मलयागिरि चन्दन से लक्ष्मीगणेश को तिलक करें।
राशिरत्न:-माणिक्य
शुभरंग:-श्वेत

कन्या:- आज के दिन आपकी वाणी के प्रभाव से आपको लाभ होगा। पर्यटन आपके लिए आनंददायी रहेगा। व्यावसायिक क्षेत्र में थोड़ा उतार चढ़ाव सम्भव है। पारिवारिक वातावरण आनंदमय रहेगा। आर्थिक में मध्य लाभ होगा।
सुझाव:-आज आओ हाथी को गुड़ खिलावें।
राशिरत्न:-पन्ना
शुभरंग:-हरा

तुला:-आज आपका व्यापार उत्तमोत्तम रहेगा।वाणी पर संयम रखने से वातावरण को शांत रखने में आप सफल हो सकते हैं। अपने अधीनस्थों से सावधान रहें। व्यक्ति विशेष से हानि की संभावना बन रही है। यात्रा से हानि की सम्भवना है।
सुझाव:-आज आप गौ माता को शाग खिलावें।
राशिरत्न:-हीरा,ओपल
शुभरंग:-नीला

वृश्चिक:-  आज आय और व्यापार में भी वृद्धि के योग हैं। मित्रों के साथ घूमने जा सकते हैं जहां आपका समय काफी आनंदपूर्वक गुजरेगा। परंतु मध्याह्न के बाद आपके स्वभाव में क्रोध और उग्रता बढ़ सकती है।
सुझाव:-आज आप हरे कम्बल का दान करें।
राशिरत्न:-मूँगा
शुभरंग:- चॉकलेटी

धनु:- आज आपको व्यवसायिक रूप से भी सफलता प्राप्त होगी। परिवार में वातावरण अनुकूल रहेगा। शैक्षिक कार्यों में लाभ व कानूनी कार्यों में बिलंब होगा।
अतिथियों का आगमन हो सकता है।
सुझाव:-आज आप काले तिल का दान करें।
राशिरत्न:-पुखराज
शुभरंग:-स्लेटी

मकर:-  आज साशन स्तर से आपको सहयोग मिलेगा । आज विदेश जाने के इच्छुक लोगों के लिए संभावनाएं बढ़ सकती हैं। परिवारजनों में आनंद-उल्लास का वातावरण बना रहेगा। व्यावसायिक क्षेत्र में पदोन्नति की संभावना बन सकती है। उच्चाधिकारियों को भी आपके कार्य से प्रसन्नता होगी।
सुझाव:-आज आप मूँग की दाल दान करें।
राशिरत्न:-नीलम
शुभरंग:-फिरोजी

कुंभ:- आज व्यापारिक स्थिति आपकी उत्तमोत्तम रहेगी इसमें तनिक भी संदेह नहीं हैं।नए कार्य का प्रारंभ आज न करे।स्वास्थ्य का ध्यान रखें। अपनी वाणी पर संयम रखे। मनमुटाव को टालने में सफल हो सकेंगे।
सुझाव:-आज आप ब्राम्हणों को मिष्ठान्न खिलावें।
राशिरत्न:-नीलम
शुभरंग:-नारंगी

मीन:-  आज आपको व्यापार व साझेदारी से आपको लाभ मिल सकता है। आज परिवार में आपका समय व्ययतीत होगा। नौकरी में स्थाईत्व आ सकता है। परिवारिक सहयोग से मन प्रसन्न रहेगा।
यात्रा से लाभ होगा।किसी अन्य चाही दुर्घटना से आप बाल बाल बचेंगे।
सुझाव:-आज आप हरी दूब भगवान गणेश को अर्पित करें।
राशिरत्न:-पुखराज
शुभरंग:-बादामी

।।आज के दिन का विशेष महत्व।।

1आज शिशिर ऋतु माघ माह कृष्ण पक्ष नवमी तिथि है।

।।प्रेरणा दाई दोहा।।

चंदु चवै बरु अनल कन सुधा होइ बिषतूल।
सपनेहुँ कबहुँ न करहिं किछु भरतु राम प्रतिकूल।।

अर्थ:- गोस्वामी तुलसीदास जी श्रीरामचरितमानस जी के अयोध्याकाण्ड में श्रीभरत जी व प्रभू श्री राम के प्रति पूर्ण समर्पण को प्रस्तुत करते हुवे अवध वासियों की भावना प्रदर्शित करते है कि भले ही शीतल चन्द्रमाँ से आग के कण बरसे , भले ही अमृत विष में परिवर्तित हो जाये, लेकिन श्री भरत जी स्वप्न में भी अपने भैया प्रभू श्री राम के विरुद्ध नहीं जा सकते ऐसा अवध के प्रबुद्ध लोगों का श्री भरत जी पर पूर्ण विश्वास है।

“अस्तु धन्य है वह निर्मल निष्कपट अद्वितीय श्रीभरत व प्रभू श्री राम का भ्रातृप्रेम हम सब को इस गन का अनुकरण करना चाहिए।”

।।वास्तु टिप।।

अगर आपके घर पर किसी फलहीन वृक्ष की छाया पड़ती है तो अनेको रोगों का सामना करना पड़ सकता है तो कृपया घरों में फलदार वृक्ष ही लगावें।

।।इति शुभम्।।

।।आचार्य स्वामी विवेकानन्द।।
ज्योतिर्विद , वास्तुविद व सरस रामकथा व्यास।।
।।श्रीधाम श्री अयोध्या जी।।
संपर्क सूत्र-9044741252

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

आज का राशिफल और पंचांग: 24 जून दिन रविवार, जानें किन राशी वालों पर भगवान होंगे मेहरबान

।।आज का पञ्चाङ्ग।। ऋतु-ग्रीष्म माह-ज्येष्ठ पक्ष-शुक्ल तिथि-एकादशी सूर्य-उत्तरायण