जेल में गुरमीत राम रहीम संग मिल कैदियों ने बनाए अनोखे ह‍थियार, थी गैंगवार की तैयारी

- in राज्य, हरियाणा

रोहतक। डेरा सच्‍चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम जिस जेल में बंद है वहां गैंगवार की तैयारी थी।  राेहतक की सुनारिया जेल में बंद एक गैंग द्वारा खूनी खेल खेलने की तैयारी की जा रही थी। इन कैदियों ने इसके लिए अनोखे हथियार बनाए थे। जेल प्रशासन ने उनके पास से नुकीले हथियार बरामद किए हैं। ये हथियार थाली और चम्मच काटकर बनाए गए थे। इनसे व्यापारी और कांग्रेस नेता अशोक काका की हत्या के आरोपित को मौत के घाट उतारना था।जेल में गुरमीत राम रहीम संग मिल कैदियों ने बनाए अनोखे ह‍थियार, थी गैंगवार की तैयारी

23 जून को खुली गिनती के समय एक गैंग ने दूसरे गैंग पर किया था हमला

जानकारी के अनुसाद, 23 जून को दोपहर के समय जेल में कैदियों की खुली गिनती चल रही थी। करीब 12 बजे एक कैदी टिटौली निवासी सुनील अपने परिजनों से मुलाकात कर वापस बैरक की ओर जा रहा था। वह कांग्रेस नेता अशोक काका की हत्या के आरोप में जेल में बंद है। वह बैरक नंबर छह के मुख्य गेट के सामने पहुंचा तो जेल में बंद दूसरे गैंग के बदमाशों ने उस पर हमला कर दिया। आरोपितों ने नुकीले हथियारों से सुनील का गला काटने का प्रयास किया।  शोरगुल होने पर वहां तैनात सुरक्षाकर्मी भागकर पहुंचे और सुनील को उन कैदियों के चंगुल से छ़ुड़ाया।

व्यापारी और कांग्रेस नेता अशोक काका के हत्यारोपित की थी हत्या की साजिश

इस मामले में उप अधीक्षक जेल तेज सिंह ने शिवाजी कॉलोनी थाने में ममाला दर्ज कराया है। मामला जेल में बंद भाेवापुर निवासी राजेंद्र, बोहर निवासी मनोज, कारौर निवासी मोहित, नगुरा निवासी राकेश, जींद की शिवपुरी कालोनी निवासी रामपाल और नया बांस निवासी मुकेश के खिलाफ दर्ज कराया गया है। पुलिस जांच के बाद सामने आया है कि आरोपित जेल के अंदर बड़े खूनी खेल खेलने की तैयारी में थे।

आरोपित सुनील ने ली थी अशोक काका की हत्या की सुपारी

कांग्रेस नेता अशोक काका की अप्रैल 2016 में हत्या कर दी गई थी। जांच में सामने आया था कि पुश्तैनी प्लॉट के विवाद में उनकी हत्या की गई। इस मामले में पुलिस ने उनके दो चचेरे भाइयों समेत शूटर्स शोरा कोठी निवासी संदीप व रोहित को गिरफ्तार किया था। पुलिस के मुताबिक काका के चचेरे भाइयों ने 147 गज के प्लॉट को प्रॉपर्टी डीलर करौंथा निवासी बिंदर और टिटौली निवासी सुनील को बेच दिया था, लेकिन काका का हस्तक्षेप होने के कारण वे खरीदारों का कब्जा नहीं दिला पा रहे थे। इसलिए चारों ने मिलकर काका की हत्या की साजिश रची। इसके लिए सुनील ने सुपारी ली थी। ” जेल में हुई घटना का केस दर्ज किया गया है और इस मामले में जांच की जा रही है। आरोपितों के पास से नुकीले हथियार बरामद किए हैं, जिन्हें थाली और चम्मच काटकर बनाया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बहराइच: मंत्री लगा रहीं ठुमके, बुखार से बच्चों की मौत का क्रम जारी

बहराइच तथा पास के जिलों में संक्रामक बुखार