Home > राष्ट्रीय > GST टैक्स स्लैब में हो सकता है बदलाव, कम होंगी टैक्स दरें

GST टैक्स स्लैब में हो सकता है बदलाव, कम होंगी टैक्स दरें

गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) के एक साल पूरा होने पर सरकार जीएसटी दिवस मना रही है. इस मौके पर लंबी छुट्टी के बाद सार्वजनिक कार्यक्रम में लौटे केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि देश में अप्रत्यक्ष करों की जटिलता खत्म हुई है. जीएसटी के चलते टैक्स कलेक्शन में बड़ा इजाफा हुआ है. जरूरी चीजों के दाम कम हुए हैं. जतना को भी कम टैक्स से बड़ी राहत मिली है. इस बीच जीएसटी ने इशारा दिया कि सरकार अब जीएसटी के टैक्स स्लैब में बदलाव कर सकती है. स्लैब में बदलाव होने से इसकी दरें और कम हो सकती हैं. उन्होंने कहा कि टैक्स कलेक्शन में इजाफा होने से अब सरकार स्लैब की दरों में कमी करके जनता को राहत दे सकती है. हालांकि, टैक्स स्लैब बढ़ाए जा सकते हैं.

सरकार की ग्रॉस इनकम में इजाफा

ओडिशा में BJP नेताओं के साथ अमित शाह ने बनाई चुनावी रणनीति

किडनी ट्रांसप्लांट के बाद पहली बार किसी सार्वजनिक कार्यक्रम का हिस्सा बने अरुण जेटली ने कहा एडवांस टैक्स पेमेंट से ग्रॉस इनकम में इजाफा हुआ है. जीएसटी की वजह से भारत एक संगठित बाजार बना है. यह सरकार के सबसे बड़े और प्रमुख फैसलों में से एक है. जेटली ने कहा पिछले साल की देश का सबसे जटिल टैक्स सिस्टम खत्म कर दिया गया. पहले 17 मल्टिपल टैक्स और 5 तरह के रिटर्न की व्यवस्था थी, 23 तरह के सेस लगे थे. टैक्स पर टैक्स लगता था. हर राज्य अपने मुताबिक अलग रेट तय करते थे. तब जाकर कहीं टैक्स रिटर्न फाइल होता था. देश में संघीय ढांचे तो ध्यान में रखते हुए जीएसटी को तैयार किया गया.

Loading...

Check Also

PMO और RBI को CIC की फटकार, बड़े डिफाल्टरों के नाम का खुलासा करे सरकार

PMO और RBI को CIC की फटकार, बड़े डिफाल्टरों के नाम का खुलासा करे सरकार

केंद्रीय सूचना आयोग (सीआईसी) ने अपने आदेश का पालन नहीं होने पर प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com