सीता को टेस्ट ट्यूब बेबी बताने के बयान पर डिप्टी CM के खिलाफ कोर्ट में शिकायत दर्ज

- in बिहार

पटना. माता सीता को टेस्ट ट्यूब बेबी बताने के मामले में यूपी के मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा के खिलाफ बिहार की एक कोर्ट में शिकायत की गई है। शिकायतकर्ता का कहना है कि दिनेश शर्मा का यह बयान न सिर्फ धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाला है बल्कि देश में धार्मिक उन्माद फैलाने की साजिश का हिस्सा नजर आता है।सीता को टेस्ट ट्यूब बेबी बताने के बयान पर डिप्टी CM के खिलाफ कोर्ट में शिकायत दर्ज

शिकायतकर्ता ने कोर्ट से अपील किया कि इस मामले में आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज करने का आदेश दिया जाए। बता दें कि शुक्रवार को दिनेश शर्मा ने एक बयान में कहा था कि सीता माता का जन्म जमीन के अंदर घड़े के अंदर हुआ था। इसका मतलब है कि रामायण काल में टेस्ट ट्यूब बेबी का कॉन्सेप्ट था। शर्मा यही नहीं ठहरे। उन्होंने आगे कहा कि आज लाइव टेलीकास्ट होता है। इसी तरह की तकनीक महाभारत काल में भी थी। क्योंकि, महाभारत के युद्ध का लाइव टेलीकास्ट संजय ने धृतराष्ट्र को सुनाया था। पत्रकारिता महाभारत के समय से मौजूद है। यह लाइव टेलिकास्ट नहीं तो और क्या था? इतना ही नहीं, उन्होंने गूगल की तुलना नारद मुनि से की थी।

-बिहार के सीतामढ़ी जिले के व्यवहार न्यायालय में चंदन कुमार सिंह नाम के एक वकील ने व्यवहार न्यायालय में एक शिकायत दायर की है।

– इस शिकायत में उन्होंने दिनेश शर्मा पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया है।

-शिकायत में यह भी कहा कि दिनेश शर्मा ने माता सीता के साथ पूरे देश की महिलाओं का अपमान किया है।

-शिकायत में उन्होंने शर्मा के इस बयान को देश में धार्मिक उन्माद फैलाने की साजिश का हिस्सा करार दिया है।

– चंदन कुमार सिंह ने कहा, ” मैंने कोर्ट में धारा 120 बी (आपराधिक साजिश रचने) और धारा 295 ए (धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने) के तहत केस दर्ज करने के लिए कोर्ट में शिकायत की है। शनिवार सुबह 8:30 बजे चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट सरोज कुमार की कोर्ट में इस पर सुनवाई हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मदन मोहन झा बने बिहार कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष, अखिलेश सिंह को सौंपी प्रचार कमिटी की कमान

पटना। आखिरकार बिहार कांग्रेस को नया प्रदेश अध्यक्ष मिल