धौनी ने टॉस जीतकर चुनी गेंदबाज़ी, दोनों टीमों में हुए तीन-तीन बदलाव

- in खेल

आइपीएल के 35वें मुकाबले में धौनी की टीम का मुकाबला विराट कोहली की धुरंधरों से हो रहा है। पुणे के मैदान पर ये पहला मौका है जब दोनों टीमें आपस में खेल रही हैं। इस मैच में चेन्नई के कप्तान धौनी ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का फैसला किया। धौनी ने टॉस जीतकर चुनी गेंदबाज़ी, दोनों टीमों में हुए तीन-तीन बदलाव

दोनों टीमों में हुए तीन बदलाव

इस मैच के लिए RCB और चेन्नई दोनों टीमों की ओर से तीन-तीन बदलाव किए गए हैं। पार्थिव पटेल को मनन वोहरा की जगह प्लेइंग इलेवन में शामिल किया। इसके साथ ही साथ वॉशिंगटन सुंदर की जगह मुरुगन अश्विन को मौक दिया गया है। वहीं क्विंटन डि कॉक की जगह ए बी डिविलियर्स की भी वापसी हुई है।

वहीं चेन्नई की टीम में भी बदलाव किए गए हैं। आसिफ की जगह शार्दुल ठाकुर की वापसी हुई है तो इंग्लैंड के ऑलराउंडर खिलाड़ी डेविड विली को फॉफ डु प्लेसिस की जगह प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया है। ध्रुव शौरी को भी अंतिम ग्यारह में जगह दी गई है। उन्हें करन शर्मा की जगह टीम में शामिल किया गया है।

विराट कोहली की नजरें महेंद्र सिंह धौनी की चेन्नई से पिछले मैच में मिली पांच विकेट से हार का बदला चुकता करने पर होंगी। दूसरी ओर, पिछले तीन में से दो मैच हार चुकी सीएसके जीत की राह पर लौटना चाहेगी। सितारों से सजी आरसीबी के लिए यह मुकाबला करो या मरो का है और प्लेऑफ की उम्मीदें बरकरार रखने के लिए उसे हर हालत में जीतना होगा। आरसीबी ने आठ में से सिर्फ तीन मैच जीते हैं, जबकि सीएसके नौ में से छह मैच जीतने में सफल रही है। पहला मैच चेन्नई में खेलने के बाद यहां आई सीएसके ने सिर्फ मुंबई के हाथों एक मैच गंवाया है।

2019 वर्ल्ड कप में रोहित की जगह मिल सकता है इस ख़तरनाक ओपनर खिलाड़ी को टीम में मौका

मुंबई से 28 अप्रैल को आठ विकेट से मिली हार और गुरुवार रात कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) के हाथों छह विकेट से हार झेलने वाली सीएसके की गेंदबाजी की कमजोरियां उजागर हुई हैं। अंबाती रायुडू, ऑस्ट्रेलिया के शेन वॉटसन, वेस्टइंडीज के ड्वेन ब्रावो, कप्तान धौनी और सुरेश रैना समेत सीएसके के सभी बल्लेबाजों ने रन बनाए हैं। रायुडू अभी तक 391 रन बना चुके हैं। धौनी ने अपने आलोचकों को दिखा दिया है कि उनके अंदर काफी क्रिकेट बाकी है। गेंदबाजों में शार्दुल ठाकुर का प्रदर्शन अच्छा रहा है, लेकिन उसे चोटिल दीपक चाहर की कमी महसूस हो रही है। ऐसे में कोहली की मौजूदगी वाले आरसीबी के बल्लेबाजी क्रम को रोकना उसके लिए बड़ी चुनौती होगी। 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

लखनऊ की निशा ने जीता महिला 5000 मीटर दौड़ का स्वर्ण

52वीं यूपी स्टेट जूनियर ( अंडर-20 पुरूष व