जम्मू-कश्मीर में सीजफायर खत्‍म होने के बाद सुरक्षाबलों ने ऑपरेशन ऑल आउट चालू कर दिया है और इसके तहत चार आतंकी ढेर कर दिए गए हैं। उत्तरी कश्मीर के पनार, बांडीपोरा जंगल में अपने आतंकरोधी अभियान को जारी रखते हुए सुरक्षाबलों ने सोमवार को दो और आतंकियों को मार गिराया। इसके साथ ही बीते 10 दिनों से जारी इस अभियान में मारे गए आतंकियों की संख्या चार हो गई है। इस दौरान एक सैन्यकर्मी शहीद हुआ है जबकि एक कर्नल समेत छह सैन्यकर्मी जख्मी हो चुके हैं। जम्मू-कश्मीर के बिज बहेरा में भी सर्च ऑपरेशन जारी है। 

गौरतलब है कि गत नौ जून से पनार बांडीपोर में आतंकियों के खिलाफ सैन्य अभियान जारी है। इस अभियान में गत 14 जून को दो आतंकियों को मार गिराते हुए एक सैन्यकर्मी भी शहीद हो गया था। मारे गए आतंकियों के अन्य साथियों के खिलाफ सैन्य अभियान लगातार जारी है। 

स्थानीय सूत्रों के अनुसार, पनार जंगल में करीब एक दर्जन आतंकी और हैं। इनमें से अधिकांश आतंकी इसी माह की शुरुआत में एलओसी पार कर बांडीपोर तक पहुंचने में कामयाब रहे हैं। यह आतंकी अब दो-दो और तीन-तीन के अलग अलग गुटों में बंट चुके हैं। इनके साथ कुछ स्थानीय आतंकियों के अलावा पहले से वादी में सक्रिय विदेशी आतंकी भी हैं।

लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी तृणमूल कांग्रेस, सोशल मीडिया के जरिए करेगी प्रचार

इन सभी को मार गिराने के लिए सेना की 14 आरआर, 22 आरआर,52 आरआर, 18 आरआर, 27 आरआर, 31 आरआर के जवानों के साथ पैरा कमांडो और वायुसेना का गरुड़ दस्ताव लगातार जुटा हुआ है।

उन्होंने बताया कि आज सुबह पांच बजे जवानों ने एक जगह आतंकियों को दोबारा घेर लिया। जवानों की घेराबंदी तोड़ भागने के लिए आतंकियों ने राइफल ग्रेनेड दागे और फिर अपने स्वचालित हथियारों से फायरिंग की। जवानों ने भी जवाबी कार्रवाई की और दो आतंकियों को मार गिराया।

राज्‍य पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आज पनार जंगल में दो और आतंकी मारे गए हैं। इनकी तत्काल पहचान नहीं हो पाई है। फिलहाल, जंगल में छिपे अन्य आतंकियों को मार गिराने के लिए सुरक्षाबलों ने अपना अभियान जारी रखा हुआ है। उन्होंने बताया कि पनार जंगल बहुत बड़ा है और इसमें कई प्राकृतिक गुफाओं और नालों के अलावा आतंकियों के कुछ पुराने ठिकाने भी हैं। इसलिए आतंकियों को मार गिराने में समय लग रहा है।

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने पनार जंगल में दो और आतंकियों के आज सुबह मारे जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि इस अभियान में अब तक चार आतंकी मारे गए हैं। उन्होंने कहा कि आतंकियों की घेराबंदी को लगातार कसा जा रहा है और जल्द ही जंगल में छिपे सभी आतंकी मारे जाएंगे या जिंदा पकड़ लिए जाएंगे।