अररिया: देश विरोधी नारे लगाने के आरोप में 2 गिरफ्तार

बिहार के अररिया में देश विरोधी नारे लगाने के आरोप में गुरुवार देर रात दो युवकों को गिरफ्तार किया गया है। हाल ही में यहां आए लोकसभा उपचुनाव के नतीजों में आरजेडी के सरफराज आलम जीते हैं। आरोप है कि जीत के जश्न के दौरान कुछ लोगों ने पाकिस्तान जिंदाबाद और भारत तेरे टुकड़े होंगे नारे लगाए थे। कथित तौर पर इसका एक वीडियो वायरल हुआ था। इसके बाद केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता गिरिराज सिंह ने कहा था कि अररिया आतंकवाद का गढ़ बनेगा।

रातभर चली छापेमारी

– पुलिस के मुताबिक, गिरफ्तार किए गए आरोपियों का नाम सुल्तान आजमी और शेहजाद है।

– देश विरोधी नारे लगाने का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने गुरुवार देर रात अररिया में कई जगह छापे मारे। दोनों आरोपियों को राजनगर से गिरफ्तार किया गया।

अच्छे वैज्ञानिक देश के लिए पावर हाउस की तरह हैं: पीएम मोदी

– गुरुवार को इस मामले में पांच से छह लोगों ने सदर थाना अररिया में मौखिक शिकायत दर्ज कराई। उन्होंने पुलिस को वायरल वीडियो भी सौंपा था।

वीडियो को लेकर राजनीति गर्म

– वीडियो वायरल होने के साथ ही राजनीति भी गर्म हो गई। अररिया से भाजपा प्रत्याशी रहे प्रदीप कुमार सिंह ने जांच की मांग की। प्रदीप ने आरोप लगाया कि वीडियो आरजेडी सांसद सरफराज के घर के पास की है। 
– इस मामले में सांसद सरफराज ने कहा है कि पाकिस्तान जिंदाबाद वाले वीडियो की जांच होनी चाहिए। यह भाजपा की साजिश है।

गिरिराज ने कहा था- सरफराज की जीत देश के लिए खतरा

– गुरुवार को गिरिराज सिंह ने कहा था कि अररिया बिहार का सीमावर्ती इलाका है। यह नेपाल और बंगाल से जुड़ा है। अररिया संसदीय सीट से सरफराज आलम को विजयी बनाकर वहां की जनता ने कट्टरपंथी विचारधारा को जन्म दिया है। सरफराज की जीत बिहार ही नहीं, बल्कि देश के लिए भी खतरा है। अररिया आतंकवादियों का गढ़ बनेगा।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा था- आईएसआईएस का गढ़ बनेगा

– चुनाव प्रचार के वक्त भी भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने कहा था- ”अगर अररिया में बीजेपी की हार हुई तो यहां आईएसआईएस का अड्डा बनेगा और जीत हुई तो यह इलाका देश भक्तों का गढ़ होगा।”

हार से बौखलाए हुए हैं भाजपा नेता

– राबड़ी देवी ने कहा, ”उपचुनाव में भाजपा की हार से नेता बौखलाए हुए हैं। बिहार और उत्तरप्रदेश की जनता ने उन्हें रास्ता दिखा दिया है। वो अपनी वाणी को वश में रखें, अररिया की जनता से उन्हें माफी मांगनी चाहिए। नहीं तो जनता 2019 में भी माफ नहीं करेगी।”
– वहीं, बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने कहा, ”सरकार से मांग करते हैं कि किसी भी तरह की बात नहीं हो, इसके लिए पहले से सावधानी बरती जाए। अररिया में सिर्फ मुसलमान ही नहीं और भी लोग रह रहे हैं। वो कैसे आईएसआईएस का गढ़ हो गया।”

अररिया में राजद को 61 हजार वोट से जीत मिली

– राजद सांसद मोहम्मद तस्लीमुद्दीन के निधन के चलते अररिया में लोकसभा सीट के लिए उपचुनाव हुआ था। पार्टी ने उनके बेटे सरफराज आलम को टिकट दिया था। वहीं, भाजपा की ओर से प्रदीप सिंह चुनाव लड़ रहे थे। 
– बुधवार को आए नतीजों में आलम को 5,09,334 और प्रदीप सिंह को 4,47,546 वोट मिले। इस तरह सरफराज ने 61,788 वोट से जीत दर्ज की। 2014 के चुनाव में तस्लीमुद्दीन 1,46,504 मतों से जीते थे।

 
 
 
 

सम्बंधित समाचार

You may also like

राहुल गाँधी के बचाव में आये ये नेता, बोले- पहले अपना ज्ञान बढ़ाये अमित शाह

नई दिल्‍ली। भारत में आगामी चुनाव बेहद काफी नजदीक