आज से राजस्थान के सात दिवसीय दौरे पर अमित शाह, माइक्रो लेवल बूथ मैनेजमेंट पर दिया जोर

जयपुर : भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह मंगलवार से राजस्थान में सात दिवसीय कैंप के लिए अपना प्रवास शुरू करने जा रहे हैं. राजस्थान में सत्ता में वापसी के लिए भाजपा ने गौरव यात्रा के अलावा माइक्रो लेवल बूथ मैनेजमेंट की रणनीति बनाई है. भाजपा की 2 दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी में प्रदेश अध्यक्ष मदन लाल सैनी ने इस रणनीति का पूरा खाका प्रस्तुत किय.

कैडर बेस पार्टी होने के कारण तमाम मोर्चों और प्रकोष्ठों को सक्रिय रूप से प्रदेश में कार्यक्रम चलाकर राज्य में पार्टी की दोबारा सरकार बनाने का संकल्प लिया गया. विपक्ष की रणनीति को भेदकर टार्गेट बेस्ड जिम्मेदारियां तय की गई हैं. इन कार्यक्रमों की शुरुआत 11 सितंबर को राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के राजस्थान दौरे से होगी. अमित शाह राजस्थान प्रवास के दौरान शक्ति केंद्र सम्मेलनों के साथ साथ अलग-अलग सम्मेलनों के माध्यम से कार्यकर्ताओं को मोटिवेट करेंगे.

राजस्थान दोबारा फतह करने के लिए भाजपा की रणनीति के अनुसार अमित शाह के दौरे में शक्ति केंद्र सम्मेलन के अलावा अलग अलग सम्मेलनों का आयोजन करवा कर समाज के हर वर्ग को जोड़ने का प्रयास किया जाएगा. सबसे पहले युवाओं को भाजपा से जोड़े रखने के लिए जोधपुर में युवा सम्मेलन करवाना तय किया गया है. इसके अलावा किसानों के लिए नागौर में किसान सम्मेलन करवाया जाएग. इसी तरह पूर्व सैनिकों का सम्मेलन सीकर में करवाकर पूर्व सैनिकों का मान सम्मान किया जाएगा. इन सम्मेलनों के बाद भाजपा कॉपरेटिव सेक्टर के तमाम संगठनों के साथ जयपुर में कॉपरेटिव का सम्मेलन आयोजित करवाया जाएगा. वहीं, नगर निकाय के जनप्रतिनिधियों से संवाद स्थापित करने के लिए जयपुर में नगर निकाय जन प्रतिनिधि सम्मेलन आयोजित होगा. इसी तरह कला साहित्य खेल सहित अन्य क्षेत्रों से जुड़े प्रबुद्ध जन सम्मेलन जयपुर में होगा. इस तरह जयपुर में कुल 4 सम्मेलन आयोजित होंगे.

भाजपा की सबसे अहम कड़ी बूथ है, इसको मजबूत करने के लिए बूथ विस्तारक का कार्यक्रम भी चलाया जा रहा है जो सातों संभागों में प्रभारियों की देखरेख में 192 विधानसभाएं कवर करते हैं. हर वर्ग के वोट को ध्यान में रखते हुए सभी मोर्चा और प्रकोष्ठों ने भी अलग से कार्यक्रम बनाया है. SC मोर्चा ने प्रदेश भर में 4100 पंचायतों को सलेक्ट किया है जहां अल्पकालीन विस्तारक जाकर लोगों को भाजपा से जोड़ने का काम करेंगे. ऐसे ही ST मोर्चा ने 67 विधानसभाओं को सलेक्ट किया है जहां एक हजार कार्यकर्ता जाकर पार्टी के लिए संपर्क जुटाएंगे. इसी तरह महिलाओं को पार्टी की रीति नीति और विचारधारा से जोड़ने के लिए महिला मोर्चा की बूथ विस्तारक महिलाएं 191 नगर पालिकाओं में जाकर प्रचार करेंगी. भाजपा युवा मोर्चा ने 6 रथ बनाये हैं जो सभी विधानसभाओं में जाकर 11 लाख हस्ताक्षर करवाएंगे.

Loading...

Check Also

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव: भाजपा विधायक ने छोड़ा पार्टी का साथ, मंत्री और सांसद पर लगाए आरोप

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव: भाजपा विधायक ने छोड़ा पार्टी का साथ, मंत्री और सांसद पर लगाए आरोप

मध्यप्रदेश में जनता किसके सिर पर ताज सजाएगी इसके लिए कुछ दिनों बाद ही चुनाव …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com