हिलेरी ने चली बड़ी चाल जिससे बिगड़ा ट्रम्प का हाल; छिन जायेगा राष्ट्रपति पद

जी हाँ!! हिलेरी क्लिंटन ने डोनाल्ड ट्रम्प के खिलाफ एक बहुत बड़ी चाल चली है जिसकी वजह से ट्रम्प की हालत बिगड़ चुकी है और हो सकता है उनसे उनकी सियासी कुर्सी यानि की राष्ट्रपति पद तक छिन सकता है| कुछ ही दिनों पहले तो अमेरिका को डोनल्ड ट्रम्प के रूप में नया राष्ट्रपति मिला है। लेकिन अब कहा जा रहा है कि उन्हें राष्ट्रपति की कुर्सी छोड़नी पड़ सकती है।

hilary-and-donald-trump

यह भी पढ़ें:- इस न्यूज चैनल पर 30 मिनट तक चलती रही पोर्न वीडियो

अमेरिका की सियासत से बहुत बड़ी खबर निकलकर सामने आ रही है और वो ये है कि डोनल्ड ट्रम्प को हो सकता है कि राष्ट्रपति के पद से इस्तीफा देना पड़ जाए। जी हां इस वक्त अमेरिका में चुनाव के नतीजों को बदलने की जबरदस्त कोशिशें चल रही हैं। आपको बता दें कि अमेरिका के  विस्कॉन्सिन में तमाम वोटों की फिर से काउंटिंग के आदेश दे दिए गए हैं। आपको बता दें कि विस्कॉन्सिन वही स्टेट है जहां ट्रम्प हिलेरी क्लिंटन से महज 22 हजार वोटों से आगे थे। बताया जा रहा है कि इससे पहले साइबर एक्सपर्ट्स ने कहा था कि राष्ट्रपति चुनाव के दौरान वोटों की गणना में कुछ गड़बड़ी हुई है। विस्कॉन्सिन के इलेक्शन बोर्ड ने वोटों की फिर से काउंटिंग के आदेश दे दिए हैं और वहां फिर से वोटों की गणना की तैयारियां चल रही हैं।

यह भी पढ़ें:- पाकिस्तान में सेना पर हमला, आर्मी चीफ के दावे की निकली हवा

सबसे पहले आपको ये बता देते हैं कि आखिर ये खबर क्या है। दरअल कुछ दिनों पहले साइबर एक्सपर्ट्स ने अंदेशा जताया था कि अमेरिका में चुनावों के दौरान तीन अहम प्रांतों जैसे विस्कॉन्सिन, पेन्सिलवेनिया और मिशिगन में साइबर हैकिंग हुई थी, जिसके चलते वोटों के टोटल में हेरफेर का अंदेशा जताया गया। इसके बाद विस्कॉन्सिन में फिर से वोटों की गणना के लिए याचिका दायर की गई थी। इसके बाद आखिरकार विस्कॉन्सिन स्टेट में वोटों की री-काउंटिंग के आदेश दे दिए गए हैं और एक बार फिर से लोगों का ध्यान चुनावी चाल पर जा रहा है। इस घटना के बाद से अमेरिका की सियासत को नया मोड़ भी मिलता दिख रहा है। अगर इन चुनाव के नतीजों में गड़बड़ी मिलती है तो ट्रम्प के लिए ये अच्छा संकेत नहीं है।

यह भी पढ़ें:- पीएम मोदी ने विपक्ष को दिया करारा जवाब, बंद कर दी सबकी बोलती

यहां चौंकाने वाली बात ये भी है कि जिन तीन स्टेट्स के बारे में बात जी रही है वहां डेमोक्रेट्स को जीत का पूरा भरोसा था। पिछले कुछ चुनावों में इन स्टेट्स में डेमोक्रेटिक पार्टी के ही उम्मीदवारों ने जीत हासिल की है। विस्कॉन्सिन में डोनल्ड ट्रम्प को1,404,000 वोट मिले थे, जबकि हिलेरी क्लिंटन के खाते में 1,381,823 वोट । इन तीम स्टेट्स से ट्रम्प को 46 इलेक्टोरल वोट मिले थे और कहा जा रहा है कि अगर ये नतीजे बदल जाते हैं तो अमेरिका की सियासत में बड़ा उलटफेर हो सकता है। अब देखना है कि अमेरिका की सियासत इस बार क्या नया रंग दिखाती है। क्या ट्रम्प एक बार फिर से जीत का हार पहनेंगे या हिलेरी इस बार ट्रम्प पर हार का वार करेंगी। आगे आगे देखते हैं अमेरिका की ये कहानी क्या नया मोड़ दिखाती है।

यह भी पढ़ें:- भारत का ‘काला चिट्ठा’ दोस्तों को सौंपते हुए पाकिस्तान ने दी भारत को खूनी चेतावनी

बताया जा रहा है कि अगर विस्कॉन्सिन के चुनावी नतीजों में हेर फेर दिखता है तो बाकी दो स्टेट्स के भी चुनावी नतीजों को फिर से री-काउंटिंग के आदेश दिए जा सकते हैं। न्यूज चैनल्स के मुताबिक अमेरिका की रीफॉर्म पार्टी के नॉमिनी रॉक ‘रॉकी’ डी ला फ्यूंट ने भी याचिका दायर की थी। इसके बाद इलेक्शन कमीशन ने कहा था कि विस्कॉन्सिन के नतीजों की काउंटिंग एक बार फिर से 10 दिसंबर तक पूरी हो जाएगी। इसके लिए तेजी से काम भी चल रहा है। बताया जा रहा है कि रूस के हैकर्स ने अमेरिका के वोटिंग सिस्टम में सेंधनारी की है। इसलिए इस बार वोटिंग मशीनों को पहले अच्छई तरह से जांचा जाएगा। इसके अलावा ये भी कहा जा रहा है कि पेन्सिलवेनिया और मिशिगन के भी चुनावी नतीजों को भी चुनौती देने पर विचार हो रहा है।

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button