अभी अभी: झूठ बोल रहे विपक्षी दल, सीएम योगी ने खुद बताई बच्चों के मौत की असली वजह

गोरखपुर में हुई बच्चों की मौत पर योगी आदित्यानाथ ने कहा कि वह मौत एक्यूट इंसेफेलाइटिस से हुई हैं। इसके लिए मोदी सरकार ने समाधान दिया है। स्वच्छता के जरिए ही इस बीमारी से निजाद पाई जा सकती है।

सरकार ने ये दी सफाई- ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई बच्चों की मौत, प्रिंसिपल हुए निलंबित

योगी आदित्यानाथ

सरकार समस्या नहीं हो सकती। सरकार समाधान लेकर आती है। यदि सरकार समस्या है तो उसे स्थिर रहने का कोई अधिकार नहीं है। योगी इलाहाबाद में एक कार्यक्रम में जनसभा को संबोध‌ित कर रहे थे।

इससे पहले गोरखपुर मामले में सीएम योगी ने ट्वीट कर मामले की गहन जांच कर सख्त कार्रवाई सुनि‌श्चित करने के निर्देश जारी कर दिए थे।

शुक्रवार गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में 30 बच्चों की मौत के बाद मचे कोहराम के बाद से सीएम योगी की तरफ से कोई बयान नहीं आया था।

Best news portal designing company in lucknow

सरकार के प्रवक्त ने कल शाम ट्वीट कर बच्चों की मौत की खबरों को भ्रामक बताया था। जिसके बाद से पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश समेत कई राजनेताओं ने इसकी कड़ी आलोचना की थी।

आज सुबह सीएम ऑफ‌िस की ओर से किए गए ट्वीट में कहा गया कि योगी आदित्यनाथ ने मामले की गहन जांच कर सख्त कार्रवाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

इससे पहले शनिवार सुबह आठ बजे ही सीएम योगी ने स्वास्‍थ्‍य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह और चिकित्‍सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन से मुलाकात कर उन्हें तत्काल गोरखपुर रवाना कर दिया।

गोरखपुर रवाना होने से पहले स्वास्‍थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि विपक्षी पार्टियों को इन मौतों का राजनीतिकरण नहीं करना चाहिए।

आपको बता दें कि शुक्रवार को गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की सप्लाई बंद होने से 30 बच्चों की मौत हो गई थी। गोरखपुर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का संसदीय क्षेत्र भी है।

loading...
=>

You may also like

32,000 फुट की ऊंचाई पर पहुँचते ही प्लेन गिरने लगा निचे, विमान में बैठे यात्रिओं का हुआ कुछ ऐसा हाल

 एयर एशिया के एक विमान ने ऑस्ट्रेलिया के