करोड़ों के शौचालय घोटाला में बक्सर से बैंक मैनेजर गिरफ्तार

बिहार में हुए करोड़ों के शौचालय घोटाले में एक बैंक मैनेजर को गिरफ्तार किया गया है। स्टेट बैंक के शाखा प्रबंधक शिव कुमार झा को बक्सर से गिरफ्तार किया गया। पटना पुलिस की स्पेशल टीम मामले की जांच में जुटी है। शिव कुमार झा पर आरोप है कि इस मामले में दो कथित मास्टरमाइंड पीएचईडी विभाग के तत्कालीन कार्यपालक अभियंता विनय कुमार सिन्हा और कैशियर बिटेस्वर से मिलकर बिना हस्ताक्षर के एक दर्जन से अधिक चेक पास कर एनजीओ के खाते में डाल दिए। मामले में अन्य दो आरोपी सिन्हा और बिटेस्वर फरार हैं।   
राजधानी पटना में हुए इस घोटाले में शौचालय बनाने का पैसा सीधे लभार्थियों को ना देकर कुछ एनजीओ को दिया गया। सरकारी नियमों के मुताबिक ऐसा नहीं किया जा सकता है। यह एनजीओ पटना और नजदीक के इलाको में पंजीकृत है। 

करोड़ों के शौचालय घोटाला में बक्सर से बैंक मैनेजर गिरफ्तारघोटाले के सामने आने के बाद इस एनजीओ से जुड़े ज्यादातर लोग फरार हैं। मामले में सरकारी विभाग के कई कर्मचारियों की मिलीभगत भी सामने आई है। सबसे चौंकाने वाला तथ्य यह है कि कई कर्मचारियों के खाते में इन एनजीओ द्वारा घूस का पैसा वापस जमा किया गया है। 

सोशल मीडिया पर छाया रहा मुद्दा

लालू यादव ने इससे पहले एक ट्वीट किया जिसकी सोशल मीडिया पर बहुत ज्यादा चर्चा रही। 
नीतीश कुमार ने सोमवार को कहा था कि घोटाले के आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा। 

Facebook Comments

You may also like

डायन बताकर गांव वालों ने महिला को पीटा, कहा-शिकायत की तो लगेगा 5 लाख का जुर्माना

झारखंड के खूंटी जिले में महिला को डायन