घूमने के लिए आपका दिल रहा है मचल, तो चले जाइए हिमाचल

- in पर्यटन

हिमाचल प्रदेश एक ऐसी जगह है जो अपने जमीन पर आने वाले पर्यटकों को कभी निराश नहीं करता है। अध्यात्म में रूचि रखने वाले लोगों से लेकर प्रकृति प्रेमियों और रोमांच पसंद लोगों के लिए भी यह जगह बेहद खास है। ऐसे में अगर आप किसी ऐसी जगह की तलाश कर रहे हैं जहाँ आपको हर चीज का अनुभव हो तो आप अपना रूख हिमाचल प्रदेश में स्थित राजगढ़ की ओर कर सकते हैं। राजगढ एक बेहद खूबसुरत जगह है जिसे देख पर्यटक मंत्रमुग्‍ध हो जाते है।

तो आइए जाने राजगढ की क्या हैं खूबियाँ और क्या क्या देख सकते हैं आप यहाँ…

सादगी भरा जीवन

राजगढ नाम का यह छोटा सा गांव आपनी सादगी के लिए जाना जाता है। यहाँ के सादे जीवन का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि लोग कम सुख-सुविधाएं होने के बावजूद एक खुशहाल और सम्पन्न जीवन व्यतीत करते हैं। गांव के लोगों का सादगी और उनकी संस्‍कृति पर्यटकों को बार बार यहाँ आने पर मजबूर कर देती है।

मंत्रमुग्‍ध कर देने वाले झरने

राजगढ़ में बहुत से मनोरम झरने हैं जो आपको हर 10 से 20 किलोमीटर की दूरी पर रास्तों के किनारे पर बहता दिखाई देता है। प्राकृतिक छटाओं के मध्य ये खूबसूरत झरने मन को मंत्रमुग्ध करने वाले होते हैं। रोंदी से हाइकिंग के  रास्ते के बीच आप कई आकर्षक झरने देख सकते हैं।

शिरगुल महाराज मंदिर

राजगढ़ में स्थित शिरगुल महाराज मंदिर समुद्रतल से 3640 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। भगवान शिव को समर्पित ये मंदिर करीब 5000 वर्ष पुराना है। यहाँ आने वाले पर्यटकों के लिए यह एक मुख्‍य आकर्षण है। एक मान्यता के अनुसार मंदिर में स्थापित शिवलिंग पर जल चढ़ाने से व्यक्ति के पाप नष्ट हो जाते हैं।

प्रकृति दृश्यों से सराबोर

यदि आप रोमांचपूर्ण छुट्टियाँ बिताना चाहते हैं तो आप एक बार राजगढ़ के जंगलों की सैर जरूर करें। यहां आप तरह तरह के वनस्‍पति और जीव- जन्तु  देख सकते हैं, खासकर रोदेंद्रॉन और देवदार के पेड पर छिपे पशुओं की विभिन्न प्रजातियां। इसके अलावा आप यहाँ तेुदंआ, हिमालय मोनाल, इंडियन पीफाउल आदि को भी देख सकते हैं।

चुरधर चोटी

चुरधर चोटी, जिसे चुरी चांदनी धर के नाम से भी जाना जाता है। इसका शाब्दिक अर्थ है “बर्फीली चोटियों की चुडियां”। ऐसा कहा जाता है कि यह राज्‍य में हिमालय की पहाडियों की सबसे ऊंची चोटी है। यहाँ आप ट्रैकिंग का लुत्फ भी उठा सकते हैं। खड़ी चढ़ाई से शुरू होने वाली ये ट्रैकिंग घने जंगलों, खेतो और फिर हरे घास के मैदानों से होकर गुज़रती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अगर इस सितंबर जा रहे हैं घुमने, तो आपके लिए बेस्ट है लद्दाख

सभी लोगों को घूमने फिरने का शौक होता