भीम को क्या पीने से दस हजार हाथियों का बल पैदा हो गया, जाने

- in धर्म

पौराणिक कथा भीम के बारे में माना जाता है कि उसमें दस हजार हाथियों का बल था। उन्होंने यह बल सिर्फ अपनी बुद्धि के बल पर हासिल किया था। बचपन में भीम अक्सर धृतराष्ट्र के पुत्रों को सभी खेलों में हरा देते थे। इससे दुर्योधन के मन में भीम के प्रति दुर्भावना पैदा हो गई। उसने भीम को मारने की योजना बनाई। भीम को क्या पीने से दस हजार हाथियों का बल पैदा हो गया, जानेएक बार दुर्योधन ने मौका पाकर भीम के भोजन में विष मिला दिया और उन्हें गंगा में प्रवाहित कर दिया। नदीमें सांपों ने भीम को खूब डंसा, जिसके प्रभाव से विष का असर कम हो गया। जब भीम को होश आया तो वे सर्पो को मारने लगे। सभी सर्प डरकर नागराज वासुकि के पास गए और पूरी बात बताई। वासुकि ने भीम को सांपों को न मारने की विनती की और ईनाम स्वरूप शक्ति बढ़ाने वाले कुंडों का रस पीने को दिया। इस रस को पीने से भीम को हजार हाथियों का बल पैदा हो गया। इसके बाद भीम नदी से बाहर निकले और वापस हस्तिनापुर आ गए।

कथासार : बुद्धि और मेहनत से कोई भी लक्ष्य हासिल किया जा सकता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

गणेश चतुर्थी: इन चीजों के बिना अधूरी है भगवान गणेश जी की पूजा, नहीं किया तो अभी समय है

13 सितंबर से पूरे हिंदुस्तान में गणेश चतुर्थी