ठाकुर नेताओं से आप हमारी पगड़ी बचाएं और हम आपकी बचाएंगे: अखिलेश यादव

अब इसे आप लोकसभा चुनाव का आगाज़ कहें या फिर यूपी राज्यसभा चुनाव में बीएसपी प्रत्यशी की हार का अंजाम. समाजवादी पार्टी क्षत्रिय वोटों पर पकड़ बनाना चाहती है लिहाज़ा लखनऊ में महाराणा प्रताप जयंती मनाई गई, एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ठाकुर नेताओं से कहा आप हमारी पगड़ी बचाएं और हम आपकी बचाएंगे.

लखनऊ में मनाई गई महाराणा प्रताप जयंती

समाजवाद की दुहाई देने वाले समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ठाकुरों की नाराजगी को दूर करना चाहते हैं, उन्हें नज़दीक लाने के लिए लखनऊ दफ्तर में अखिलेश ने महाराणा प्रताप जयंती मनाई. यूपी में योगी सरकार बनने के बाद उनकी पार्टी के एमएलसी यशवंत सिंह ने योगी के लिए इस्तीफ़ा दे दिया था, कई ठाकुर नेता एसपी का दामन छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए थे.

बीएसपी से नज़दीकी बढ़ने के बाद मायावती के विरोधी रहे राजा भैया ने भी एसपी का साथ राज्यसभा चुनाव में छोड़ दिया था.कभी पार्टी के सबसे बड़ा ठाकुर चेहरा रहे अमर सिंह भी गाहे बेगाहे अखिलेश को कठघरे में खड़ा करते रहे हैं.

अखिलेश यादव लोकसभा चुनाव के पहले ठाकुर वोटरों को अपने करीब लाना चाहते हैं. लखनऊ में उन्होंने महाराणा प्रताप जयंती मनाई और कहा उनके इस आयोजन के बाद विरोधी पार्टियों में हलचल हैं. अखिलेश ने क्षत्रिय समाज से अपील की आप मेरी पगड़ी बचाइए , हम आपकी बचाएंगें.

योगी सरकार की शिक्षामंत्री पर बीजेपी के सांसद ने लगाए भ्रष्‍टाचार के आरोप

बीजेपी प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा- अखिलेश करते हैं महापुरुषों का अपमान

अब अखिलेश यादव के इस आयोजन पर बीजेपी ने भी पलटवार किया है, बीजेपी प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी का कहना है समाजवाद की दुहाई दने वाले अखिलेश यादव का ये जातीय राजनीती और तुस्टीकरण का चेहरा है. इस तरह का आयोजन करके वो हमेश की तरह जातीय राजनीति कर रहे हैं , लेकिन इससे कोई फायदा होने वाला नहीं है, क्योंकि जातीय समीकरण साधने के इरादे से किए गए इस आयोजन ने महाराण प्रताप का सम्मान नहीं किया है बल्कि अपमान किया है.

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

नवजोत सिद्धू की पॉलिसी दरकिनार कर बाजवा लाएंगे ये नई पॉलिसी

लुधियाना। स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की