बिजनेस डील करने गए शी जिनपिंग ने व्लादिमीर पुतिन के साथ बनाया Pancake

रूस और चीन की दोस्ती के कई किस्से दुनिया में मशहूर हैं. यही वजह है कि कम्युनिस्ट शासन प्रणाली वाले दोनों देशों के राष्ट्राध्यक्षों के आपसी मेल-जोल पर विश्वभर की नजरें टिकी रहती हैं. बीते दिनों चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Xi Jinping) ने जब अपने रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) के साथ मिलकर पैनकेक बनाया, तो दुनियावी राजनीति को समझने वाले जानकारों की निगाहें एक बार फिर इन दोनों की गतिविधियों पर केंद्रित हो गईं.

दरअसल, रूस के व्लादिवोस्तोक शहर में ईस्टर्न इकोनॉमिक फोरम (Eastern Economic Forum) की बैठक होनी है. इसमें शामिल होने के लिए चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग भी अपने देश के भारी-भरकम प्रतिनिधिमंडल के साथ पहुंचे हैं. इसी दौरान दोनों देशों के राष्ट्रपतियों ने अपने व्यस्ततम कार्यक्रम से समय निकालकर पैनकेक (Pancake) बनाया. रूस में पैनकेक को ‘बिनी’ (Bini) कहा जाता है. चीन और रूस के राष्ट्रपतियों के इस Pancake Politics को जानकार अलग-अलग नजरिए से देख रहे हैं.

किताब- ट्रंप के साथ कैंप डेविड में डिनर करना चाहते थे पीएम मोदी, लेकिन…

जिनपिंग को पुतिन ने दिया पैनकेक-चैलेंज

ईस्टर्न इकोनॉमिक फोरम कॉन्फ्रेंस से पहले रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने अपने चीनी समकक्ष को पैनकेक बनाने का चैलेंज दिया. शी जिनपिंग इसके लिए फौरन तैयार हो गए. इसके बाद दोनों नीले रंग की एप्रन पहनी और पैनकेक बनाने में जुट गए. इस वैश्विक घटना की जो तस्वीर जारी की गई है, उसमें शी जिनपिंग और व्लादिमीर पुतिन को एक साथ पैनकेक का बटर (Batter) तैयार करते हुए और केक बनाते हुए देखा जा सकता है. पैनकेक-चैलेंज की इस प्रतियोगिता में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बाजी मारी, क्योंकि उनका पैनकेक काफी साफ-सुथरा बना. दोनों राष्ट्रपतियों ने पैनकेक बनाने में अपने कौशल का बेहतरीन प्रदर्शन किया. पुतिन और जिनपिंग, दोनों ने ही अपने-अपने पैनकेक को बेहतर बनाने के लिए इसमें Caviar (मछली के अंडे) और Vodka (रूसी शराब) का इस्तेमाल किया.

1 हजार सदस्यों के प्रतिनिधिमंडल संग पहुंचे जिनपिंग

शी जिनपिंग और व्लादिमीर पुतिन की इस पैनकेक-पॉलिटिक्स पर दुनियाभर की नजरें टिकी हैं. क्योंकि रूस के व्लादिवोस्तोक शहर में हो रहे ईस्टर्न इकोनॉमिक फोरम कॉन्फ्रेंस के जरिए रूस अपने यहां विदेशी निवेश आकर्षित करने की योजना बना रहा है. इसके समर्थन में चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग अपने 1 हजार सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल के साथ रूस पहुंचे हैं. जिनपिंग के प्रतिनिधिमंडल में चीन के बड़े कारोबारी, उद्योगपति और सरकारी अधिकारी शामिल हैं. इस कॉन्फ्रेंस के आयोजन को रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की महत्वाकांक्षी योजना कहा जा रहा है. यही वजह है कि दोनों राष्ट्रपतियों के पैनकेक बनाने की घटना को विश्व-राजनीति के लिए महत्वपूर्ण माना जा रहा है. वैसे आपको बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब दोनों देशों के राष्ट्रपति ने पैनकेक बनाए हैं. इससे पहले व्लादिमीर पुतिन जब चीन के दौरे पर गए थे, उस समय उन्होंने भी चाइनीज पैनकेक बनाया था.

Loading...

Check Also

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला- भारत की वाजिब चिंताओं पर आत्ममंथन करे पाकिस्तान

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला- भारत की वाजिब चिंताओं पर आत्ममंथन करे पाकिस्तान

नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला का कहना है कि …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com