WHO ने कहा- वैक्सीन कोई जादू की गोली नहीं, जिसे खाते ही कोरोना खत्म हो जाएगा, सोशल डिस्टेनसिंग का करें पालन

नई दिल्ली। एक तरफ दुनिया कोरोना वैक्सीन आने की खबरों से उत्साहित है तो  विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चेतावनी दी है कि कोरोनावायरस संकट के लिए वैक्सीन कोई जादू की गोली नहीं है। संक्रमण से निपटने के लिए राष्ट्र बड़े पैमाने पर रोलआउट करते नजर आ रहे हैं।

डब्लूएचओ के शीर्ष स्वास्थ्य निदेशक माइकल रयान ने कहा, “टीके के आने का मतलब कोविड का पूरी तरह खत्म हो जाना नहीं है। इसे अगले साल की शुरुआत में हर कोई प्राप्त नहीं कर पाएगा।” उन्होंने आगे कहा कि बेशक वैक्सीन के आ जाने से हमारी मेडिकल किट में एक प्रमुख शक्तिशाली उपकरण जुड़ गया है। लेकिन, वह अकेले ही सारा काम नहीं कर पाएगी।

डब्लूएचओ के महानिदेशक डॉक्‍टर टेड्रोस अदनोम घेब्रेयेसस ने वैक्सीन को एक गहरी सुरंग से निकलती रोशनी की तरह बताया है। उन्होंने कहा कि लोगों में यह धारणा बढ़ रही है कि कोरोना वायरस खत्म हो गया है, लेकिन ऐसा नहीं है, यह अभी भी बहुत तेजी से फैल रहा है। टेड्रोस ने बैठक में यह भी कहा कि हमें तैयारियों के लिए, वैश्विक प्रणाली पर ध्यान देने की आवश्यकता है। सितंबर में स्थापित डब्लूएचओ आयोग, अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य नियमों की समीक्षा कर रहा है। डब्लूएचओ कई देशों के साथ मिलकर एक पायलेट प्रोग्राम शुरू करने पर काम कर रहा है, जिसमें सभी देश अपनी स्वास्थ्य तैयारियों की नियमित और पारदर्शी समीक्षा करने के लिए सहमत हुए हैं।

बड़ी खबर: ‘जुग जुग जीयो’ की शूटिंग के दौरान, वरुण धवन, अनिल कपूर, नीतू कपूर, हुए कोरोना संक्रमित

विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि वर्तमान में 51 उम्मीदवारों की वैक्सीन इंसानों पर टेस्ट की जा रही है, जिसमें से 13 अभी फाइनल स्टेज पर पहुंच रहे हैं। बुधवार को ब्रिटेन पहला ऐसा देश बना है जिसने अपनी वैक्सीन फाइजर-बायोटेक्निक को आम लोगों पर उपयोग करने की अनुमति दी है। अमेरिका भी इस महीने इसे हरी झंडी दे देगा।

वैक्सीन के आने के साथ, अमेरिकी कंपनियां इसके वितरण में सहायता के लिए बड़े पैमाने पर प्रयास कर रही है। फाइजर और बायोटेक्निक ने कहा है कि उनकी वैक्सीन को माइनस 94 डिग्री का तापमान चाहिए होगा, अब इसके बाद अलग-अलग फर्म इंसुलेटिंग कंटेनर के युद्धस्तर पर इंतजाम करने में लगी हुई हैं।

संयुक्त राज्य अमेरिका में लगातार दूसरे दिन कोविड-19 मामलों की रिकॉर्ड संख्या दर्ज की गई है, इसे नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन ने ‘डार्क विंटर’ कहा है। अमेरिका के सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन ने शुक्रवार को सभी को घर के अंदर ‘यूनिवर्सल फेस मास्क यूज’ की सलाह दी है। इसके साथ ही जो बाइडेन ने भी कहा है कि कोरोना वायरस को देखते हुए वह अपने जनवरी में होने वाले विशाल उद्घाटन समारोह को रद्द कर देंगे। ब्रिटिश चिकित्सा प्रमुखों ने कहा है कि एक वैक्सीन के आने से अगले साल की शुरुआत में मौतों में कमी आएगी लेकिन क्रिसमस पर सोशल डिस्टेनसिंग को ध्यान में रखना होगा।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button