विराट की सेना ने दक्षिण अफ्रीका को मैच से पहले ही दे डाला यह बड़ा चैलेंज

- in खेल

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच शनिवार को खेले जाने वाला तीसरा और सीरीज का आखिरी टी-20 मुकाबला बहुत ही रोमांचक हो गया है. दोनों ही टीमें इस मुकाबले को अपनी झोली में डाल सीरीज जीतने के लिए बहुत ही ज्यादा बेकरार है.  इसमें दो राय नहीं कि दूसरा टी-20 मैच जीतने के बाद मेजबान टीम के कॉन्फिडेंस में बहुत ही इजाफा हुआ है.

विराट की सेना ने दक्षिण अफ्रीका को मैच से पहले ही दे डाला यह बड़ा चैलेंज

लेकिन यह आखिरी मुकाबला सीरीज डिसाइडर होने की वजह से एक अलग ही तरह का मैच होगा. वहीं टीम इंडिया ने मैच से पहले ही मेजबानों के सामने एक बड़ी चुनौती रख दी है. वास्तव में जिस अंदाज में पिछले मैच में दक्षिण अफ्रीकी विकेटकीपर हेनिरच क्लासेन और जेपी डुमिनी ने अपनी टीम को छह विकेट से जीत दिलाई, उसने एक तरह से चोटिल खिलाड़ियों की मारी दक्षिण अफ्रीकी टीम के लिए सीरीज डिसाइडर मुकाबले से पहले टॉनिक का काम किया है. निश्चित ही, इससे उन्हें भरोसा मिला होगा कि वह टी-20 सीरीज जीतकर सम्मान बचा सकते हैं. हालांकि, इस मैदान का  रिकॉर्ड कुछ और ही कह रहा है. 

अजीब और गरीब बल्ला लेकर मैदान में उतरे धोनी, और जड़ डाले चौके छक्के

वैसे यह बात पूरी तरह सही है कि पुराने रिकॉर्डों का वर्तमान से कुछ लेना देना नहीं होता. लेकिन यह भी एक बड़ा सच है कि दक्षिण अफ्रीका के पास उसके सितारा मैच जिताऊ बल्लेबाज नहीं ही हैं. ऐसे में सवाल यह है कि क्या मेजबान न्यूलैंड्स मैदान पर अपने खराब रिकॉर्ड में आखिरी टी-20 में सुधार कर पाएंगे. सवाल यह भी है कि क्या मेजबान टीम भारत के चैलेंज को भेद पाएगी. 

सम्बंधित समाचार

You may also like

पैदल चाल प्रतियोगिता 2 अक्तूबर को

राज्यमंत्री स्वाती सिंह सुबह 7 बजे करेंगी पैदल