US भारत को देगा गार्जियन ड्रोन, पहली बार होगा कुछ ऐसा

अमेरिका ने भारत को गार्जियन ड्रोन के आर्म्ड वर्जन देने की पेशकश की है. पहले इसकी बिक्री सिर्फ सर्विलांस के लिए की जाती थी. सूत्रों के हवाले से इस बात की जानकारी अमेरिका के एक अधिकारी ने दी है. अगर ये डील पक्की हो जाती है तो फिर अमेरिका पहली बार बड़े आर्म्ड ड्रोन नाटो (NATO) देशों के बाहर बेचेगा. इस साल अप्रैल में ट्रंप प्रशासन ने अमेरिकी हथियार निर्यात नीति में बदलाव किए थे.US भारत को देगा गार्जियन ड्रोन, पहली बार होगा कुछ ऐसा

ट्रंप प्रशासन के मुताबिक इसकी मदद से अमेरिकन डिफेंस इंडस्ट्री को फायदा मिलेगा और उनके देश में रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे. हालांकि अमेरिकी अधिकारी का कहना है कि इस डील के रास्ते में प्रशासनिक रोड़ा भी है. इस डील के लिए भारत को एक कम्युनिकेशन फ्रेम वर्क को मानना होगा. सूत्रों के मुताबिक हो सकता है कि ये डील भारत को ज़्यादा दखलंदाजी वाला लगे. कहा जा रहा है कि इस मुद्दे पर इसी महीने दोनों देशों के बीच बातचीत होनी थी. लेकिन ये बैठक बाद में रद्द हो गई. अब एक बार फिर से कहा जा रहा है कि ये बैठक सितंबर के महीने में हो सकती है.

पिछले साल जून में जनरल एटॉमिक्स ने कहा था कि अमेरिकी सरकार ने ड्रोन के नैवल वैरिएंट को बेचने की हरी झंडी दे दी है. भारत हिंद महासागर की निगरानी के लिए 22 मानवरहित MQ-9B सर्विलांस एयरक्राफ्ट खरीदने की योजना बना रहा है. ये डील करीब 2 अरब डॉलर की हो सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

राफेल डील पर फ्रांसीसी कंपनी ने दिया बड़ा बयान, कहा- सौदे के लिए रिलायंस को हमने चुना

फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के बयान के बाद