अमेरिकी राष्‍ट्रपति ट्रंप की सुरक्षा में तैनात हुआ पहला सिख अंशदीप सिंह भाटिया

कानपुर के एक सिख परिवार से ताल्लुक रखने वाले अंशदीन सिंह भाटिया अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की सुरक्षा में तैनात गार्ड टीम में शामिल हो गए हैं। वह ऐसे पहले सिख व्‍यक्ति भी बन गए हैं, जो पूरी शिनाख्‍त के साथ सुरक्षा फ्लीट में शामिल हुए हैं।

दरअसल, अंशदीप ने अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के सुरक्षा गार्डों में शामिल होने का सपना देखा था। मगर, उनके लिए बड़ी समस्‍या थी कि इन सुरक्षा गार्डों में शामिल होने के लिए सामान्‍य वेशभूषा ही होनी चाहिए। सिख होने की वजह से अंशदीप को इसमें परेशानी का सामना करना पड़ा।

उनसे कहा गया था कि उन्हें अपने लुक में बदलाव करना होगा। तैनाती को लेकर जब कुछ शर्तें लगाई गईं, तो अंशदीप ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। लंबी कानूनी जंग लड़ने के बाद आखिर में फैसला सिंह के पक्ष में आया। पिछले हफ्ते ट्रेनिंग पूरी करने के बाद अंशदीप सिंह भाटिया को राष्ट्रपति की सुरक्षा टीम में शामिल कर लिया गया।

बिजनेस डील करने गए शी जिनपिंग ने व्लादिमीर पुतिन के साथ बनाया Pancake

अंशदीप ने अमेरिकी राष्‍ट्रपति के सुरक्षा गार्डों में शामिल होने से पहले भी कई नौकरी की। मगर, उनके दिमाग में हमेशा से ही कुछ अलग करने का जुनून था। उनके दादा कंवलजीत सिंह भाटिया ने बताया कि अंशदीप ने पहले एयरपोर्ट सिक्‍योरिटी में भी कुछ दिनों तक नौकरी की थी।

84 के दंगों में मिले थे जख्म

अंशदीप सिंह भाटिया के परिवार को साल 1984 में हुए दंगों में गहरे जख्‍म मिले थे। दंगों में उनके चाचा और कुछ करीबी रिश्तेदारों की हत्‍या कर दी गई थी। उनके पिता देवेंद्र सिंह को भी गोलियां मारी गईं, लेकिन वह बच गए। दंगों के बाद उनके परिवार ने कानपुर छोड़ दिया था। इसके बाद उनका परिवार लुधियाना चला गया था और फिर साल 2000 में अमेरिका में बस गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

यहां 3 महीने पहले हो रहा क्रिसमस सेलिब्रेशन, वजह जान आंखों में आ जाएगा पानी

यूं तो हर साल क्रिसमस सेलिब्रेशन 25 दिसंबर