ट्रंप ने एपल को चेताया- चीन की बजाय अमेरिका में करें प्रोडक्शन

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शनिवार को ट्वीट कर कहा कि एपल के प्रोडक्ट की कीमतें बढ़ सकती हैं. क्योंकि हम चीन पर भारी टैरिफ लगाने जा रहे हैं. लेकिन इसका बहुत ही सरल समाधान है जिससे न सिर्फ टैक्स से बचा जा सकता है बल्कि, टैक्स इंसेंटिव भी मिल सकता है.

इसके लिए उन्होंने एपल को सलाह देते हुए कहा कि कंपनी इसके लिए अपने प्रोडक्ट चीन की बजाय अमेरिका में बनाए. नई इमारतें और नए प्लांट की शुरुआत करें.

बता दें कि ट्रंप ने इससे पहले शुक्रवार को कहा कि वह भारत और चीन जैसी उभरती अर्थव्यवस्थाओं को दी जाने वाली सब्सिडी को रोकना चाहता है.

उन्होंने कहा क‍ि वे मानते हैं कि अमेरिका एक विकासशील देश है और चाहते हैं कि उनका देश किसी भी अन्य देश के मुकाबले तेजी से बढ़े. वह उत्तरी डकोटा प्रांत के फर्गो शहर में अपनी पार्टी के एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. ये कार्यक्रम चंदा जुटाने के लिए था.

उन्होंने विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) की भी आलोचना की. उनकी राय में इस बहुपक्षीय व्यापार संगठन ने चीन को सदस्य बनाकर उसे ‘दुनिया की एक बड़ी आर्थिक ताकत’ बनने का मौका दिया.

ट्रंप ने कहा, ‘हम ऐसे कुछ देशों को इसलिए सब्सिडी दे रहे हैं कि वे विकासशील समझे जाते हैं और अभी पर्याप्त रूप से विकसित नहीं हैं. यह सब पागलपन है. भारत को लें, चीन को लें और दूसरों को लें. अरे ये सब वास्तव में बढ़ रहे हैं।’

उन्होंने कहा, ‘ये देश अपने को विकासशील कहते हैं और इस श्रेणी में होने के नाते वे सब्सिडी पाते हैं. हमें उन्हें पैसा देना पड़ता है. यह सब पागलपन है. हम इसे बंद करने जा रहे हैं. हम इसे बंद कर चुके हैं.’

उन्होंने कहा,‘हम भी तो विकासशील हैं, ठीक है कि नहीं? जहां तक मेरा मानना है तो हम एक विकासशील देश हैं. मैं चाहता हूं कि हमें भी उसी वर्ग में रखा जाए. हम बाकियों से अधिक तेजी के साथ बढ़ना चाहते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

China के सबसे ‘शक्तिशाली’ व्‍यक्ति की चेतावनी, ट्रेड वार से होगी सबसे ज्‍यादा बर्बादी

चीन के सबसे अमीर और शक्तिशाली व्‍यक्ति जैक मा ने